उरी के जरिये खाकी में देश भक्ति जगाने की कवायद, 215 जवानों ने फैमिली संग देखी फ़िल्म

उरी के जरिये खाकी में देश भक्ति जगाने की कवायद

गोरखपुर के एक मॉल में पुलिस के जवानों को फ्री में दिखाई गई फ़िल्म उरी

गोरखपुर 9 फरवरी। उरी के जरिये खाकी में जोश, उरी के जरिये खाकी में देश भक्ति का जज्बा जगाना, जी हां फ़िल्म उरी आज सभी भारतीयों के लिए महज फ़िल्म नही बल्कि एक सीख बन गई है, और शायद यही वजह है, कि प्रदेश के मुख्यमंत्री के देखने के बाद अब गोरखपुर में मॉल में फ्री में फ़िल्म उरी को पुलिस के जवानों को दिखाया गया।

215 जवानों ने फैमिली संग देखी फ़िल्म उरी

215 जवानों ने फैमिली संग देखी फ़िल्म उरी

सर्जिकल स्ट्राइक पर बनी फिल्म ‘उरी’ देश भक्ति से ओत प्रोत फिल्म है, इस फिल्म में जवानों के संघर्षों और देश भक्ति के जज्बे को दिखाया गया है, इस फिल्म को प्रदेश सरकार पूरी कैबिनेट के साथ देख चुकी है, आज मुख्यमंत्री के शहर गोरखपुर में पुलिस के 215 जवानों ने अपने परिजनों और अधिकारियों के साथ फिल्म उरी का आनंद लिया। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक व आईनॉक्स लेजर लिमिटेड कंपनी के सहयोग से इस फिल्म को सिटी मॉल में प्रदर्शित किया गया।

उरी के जरिये खाकी में देश भक्ति जगाने की कवायद

सिटी मॉल में आइनॉक्स लेजर लिमिटेड कंपनी और जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉक्टर सुनील कुमार गुप्ता के सहयोग से कंपनी ने आज विशेष शो आयोजित कर गोरखपुर पुलिस में तैनात विभिन्न जवानों, अधिकारियों और उनके परिजनों को फिल्म उरी निशुल्क में दिखाया, फिल्म उरी में दिखाया गया है, कि देश के जवान विषम परिस्थितियों में कैसे हमारी रक्षा करते हैं, वहीं पाकिस्तान द्वारा लगातार आतंकी गतिविधियों को बढ़ावा देने के साथ ही पाकिस्तानी सेना हमारे सैनिकों को निशाना बनाए जाने और सैनिकों के साथ क्रूरता किये जाने की घटना को दर्शाया गया है, वही फिल्म में एक मिशन के तहत हमारे देश की सेना कैसे पाकिस्तानी सेना को उनके ही घर में घुसकर जवाब देती है, जिसका ऑपरेशन का नाम उरी द सर्जिकल स्ट्राइक दिया गया था । इस ऑपरेशन के बाद से पाकिस्तान पूरी तरह बैकफुट पर आ गया, क्योंकि यह पहला मौका था, जब भारत ने पाकिस्तान की सीमा में घुसकर पाकिस्तान को उसी के शब्दों में कड़ा जवाब दिया था।

215 जवानों ने फैमिली संग देखी फ़िल्म उरी

आईनॉक्स कंपनी के मैनेजर संजय ने बताया कि हमारी कंपनी ने फिल्म उरी को गोरखपुर के पुलिस विभाग को दिखाने का प्रस्ताव दिया था जिसे जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने स्वीकार करते हुए अपने 215 जवानों को इस फिल्म को देखने के लिए भेजा, फिल्म में देश के जवान किन विषम परिस्थितियों में देश की रक्षा करते हुए अपने प्राणों की आहुति दे देते हैं। फिल्म को दिखाने का मकसद जवानों में देश के प्रति देश भक्ति की भावना को जागृत करना है, क्योंकि पुलिस के जवान भी निरंतर हमारी सुरक्षा में लगे रहते हैं। इन्हें अपने परिवार और मनोरंजन के लिए समय नहीं मिल पाता। हमारी कंपनी का यह प्रयास है, कि फिल्म देखने के साथ ही अपने कर्तव्यों के प्रति निष्ठा और पूरी ईमानदारी बरतने का एक संदेश है।

ये भी पढ़े : घर-घर “दस्तक” अभियान का सीएम ने किया शुभारम्भ, हरी झंडी दिखा कर किया रैली को रवाना

आईनॉक्स कंपनी ने हमारे पास एक प्रस्ताव भेजा था जिसमें सर्जिकल स्ट्राइक पर बनी फिल्म पूरी को दिखाने का प्रस्ताव था जिसे स्वीकारते हुए मैंने पुलिस विभाग की विभिन्न शाखाओं मैं कार्यरत जवानों को भेजा है, स्किन को दिखाने का मकसद जवानों में जोश और उत्साह भरना है, फिल्म मैं सैनिक और पुलिस के जवान किस तरह से काम करते हैं इसे भी दिखाया गया है, कहीं ना कहीं यह संदेश है, कि देश की रक्षा करने के लिए इमानदारी कर्तव्य निष्ठा का निर्वहन करना चाहिए।

बस 1 क्लिक पर जानें देश-दुनिया की ताजा-तरीन खबरें Download करें संस्कार न्यूज़ चैनल की Application नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें या फिर play store पे sanskarnews सर्च करें- लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज- https://fb.com/sanskarnewslko/