कानूनगो के बाद अब लेखपाल बीस हजार घूस लेते रंगे हाँथ गिरफ्तार

लेखपाल बीस हजार रुपये घूस  लेते धराया । एंटी करप्शन की इस कार्यवाही से मचा  हड़कम्प। 

गोरखपुर । अभी हाल ही में चौरीचौरा तहसील में एंटी करप्शन की टीम ने पांच हजार रुपये घूस  लेते हुए कानूनगो राम लौट सिंह को रंगे हाँथ गिरफ्तार किया था कि आज बांसगांव का लेखपाल बीस हजार रुपये घूस   लेते धरा गया।एंटी करप्शन की इस कार्यवाही से हड़कम्प मच गया।अगर इसी तरह से आमजन इन घूसखोरों के खिलाफ सजग हो जाये तो भ्र्ष्टाचार पर काफी अंकुश लग सकता है।

मिली जानकारी के मुताबिक खोराबार के पास मिठाई की दुकान से बांसगाव तहसील में तैनात लेखपाल राम किशन को घूस लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया। एंटी करप्शन की टीम ने घूस के ₹20 हजार भी बरामद कर लिए प्रभारी निरीक्षक की तहरीर पर चौरीचौरा थाने में लेखपाल पर भ्रष्टाचार अधिनियम की धारा में केस दर्ज किया गया।

आरोपी की गिरफ्तारी की खबर से तहसील में खलबली मच गई थाने पर उसके कई साथी पहुंचे मगर घूस  की जानकारी होने के बाद लौट गए। चौरीचौरा के बनवा गांव निवासी राम किशन बांसगाव तहसील के मजगामा ग्राम सभा के लेखपाल हैं।

बांसगाव के बसई गांव निवासी दिलीप शुक्ला ने लेखपाल पर घूस मांगने का आरोप लगाया था दिलीप के मुताबिक उनकी जमीन फोरलेन के पास है जिसका मुआवजा दिलाने के लिए लेखपाल ने ₹40 हजार की मांग की थी दिलीप की शिकायत पर एंटी करप्शन टीम ने 2000 के  दस नोट पर रंग लगाया और फिर लेखपाल के स्थान पर जाने के लिए कहा  दिलीप रुपये  लेकर मिठाई की दुकान पर पहुंच गए जैसे नोट लेकर लेखपाल ने जेब में रखा टीम ने पकड़ लिया जेब से निकाले गए नोटों में और लेखपाल के हाथ से रंग लग गया था।