मुस्लिमो को पाक जाने की सलाह देने वाले,मेरठ sp सिटी अखिलेश नारायण ने दी सफाई

मेरठ sp सिटी अखिलेश नारायण

प्रतिक्रियास्वरूप, मैंने यह सलाह दी कि यह बेहतर होगा कि पाकिस्तान चले जाएं जहां के समर्थन में वे नारे लगा रहे थे- मेरठ sp सिटी अखिलेश नारायण

नागरिकता कानून पर प्रदर्शन के दौरान मेरठ के एसपी सिटी अखिलेश नारायण सिंह की तरफ से उन्हें पाकिस्तान चले जाने का वीडियो वायरल होने के बाद इस पर चौतरफा प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। वीडियो पर बढ़ते विवाद को देखते हुए मेरठ के एडीजी ने सफाई दी है।मेरठ एडीजी प्रशांत कुमार ने कहा- “पत्थरबाजी की जा रही थी। भारत विरोधी और पड़ोसी देश के समर्थन में नारे लगाए जा रहे थे। स्थिति बेहद तनावपूर्ण हो चुकी थी। पेम्फलेट्स बांटे जा रहे थे। यह सब धर्म गुरूओं और अन्य तरीकों से अपील के बावजूद हो रहा था।

ये भी पढ़े:राजधानी लखनऊ में लांच हुआ,लखनऊ मीट वाला एंड्राइड ऐप

उन्होंने आगे कहा – हां, अगर स्थिति सामान्य होती तो शब्दों का चयन बेहतर होता लेकिन स्थिति काफी बिगड़ गई थी और हमारे अधिकारियों ने काफी संयम दिखाया। पुलिस की तरफ से कोई फायरिंग नहीं की गई। गौरतलब है कि जो वीडियो वायरल हुआ है उसमें मेरठ एसपी (सिटी) अखिलेश नारायण सिंह उस ग्रुप के लोगों के करियर को तबाह करने की धमकी देते दिख रहे हैं। ये वीडियो 20 दिसंबर का है जब मेरठ में नागरिकता कानून के विरोध में किया जा रहा प्रदर्शन हिंसक रूप ले लिया था।

इस वीडियो के अंदर एसपी सिटी उन लोगों पर गुस्से का इजहार कर रहे हैं, जिन्होंने काले और हरे रंग के बैंड पहन रखे थे। ऐसा लगता है कि यह वीडियो उस वक्त बनाया गया जब स्थानीय प्रदर्शनकारी पुलिस से भिड़े थे और जोरदार नारे लगा रहे थे।

ये भी पढ़े:दिल्ली: NRC के विरोध में जुमे की नमाज के बाद प्रदर्शनकारियों ने जमकर नारेबाजी की

हिन्दुस्तान टाइम्स से इस बारे में बात करते हुए एसपी सिटी अखिलेश नारायण सिंह ने कहा कि जो कुछ भी वीडियो में सुना गया है वह प्रदर्शनकारियों के उस ग्रुप को जवाब था, जब वे सभी पाकिस्तान के समर्थन में ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे लगे रहे थे।

उन्होंने कहा- “प्रतिक्रियास्वरूप, मैंने यह सलाह दी कि यह बेहतर होगा कि पाकिस्तान चले जाएं जहां के समर्थन में वे नारे लगा रहे थे।” उन्होंने सवाल किया कि क्यों वे लोग पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगा रहे थे?

अखिलेश नारायण सिंह ने आगे कहा- मैं ऐसा मानता हूं कि जो अपने मुल्क को प्यार करता हो वो कभी भी ऐसे नारों को बर्दाश्त नहीं करेगा।