योगी संग गोरखपुर पहुंचे अखिलेश यादव, कहा- हम तो गाय चरा लेते लेकिन आप यहीं मंदिर में घंटा बजा रहे होते

अखिलेश यादव

अखिलेश यादव जब गोरखपुर में चुनावी रैली के लिए पहुंचे तो अचानक उनके मंच पर योगी को देखकर लोग हैरान हो गए हालांकि कुछ ही देर में पता चला कि यह सीएम योगी आदित्यनाथ नहीं बल्कि उनके हमशक्ल सुरेश ठाकुर हैं

गोरखपुर। योगी के गढ़ गोरखपुर में अखिलेश यादव ने नकली योगी की मौजूदगी में असली योगी सूबे के सीएम पर जमकर निशाना साधा। सीएम योगी के पुराने बयान के बहाने उन पर हमला बोलते हुए अखिलेश यादव ने कहा, संविधान नहीं होता तो हम तो गाय या भैंस चरा लेते लेकिन आप सोचिए तब क्या करते…शायद यहीं मंदिर में घंटा बजा रहे होते।

चौकीदार’ के साथ-साथ ‘ठोकीदार’ को भी हटाना है – अखिलेश यादव

अखिलेश यादव लगातार अपने मंचों पर योगी के हमशक्ल को लेकर घूम रहे हैं। योगी के गढ़ गोरखपुर में भी उन्होंने ऐसा ही किया। इस दौरान चुनावी मंच से अखिलेश यादव ने प्रदेश की योगी और केंद्र की मोदी सरकार पर जोरदार हमला बोला। अखिलेश यादव ने कहा कि ‘चौकीदार’ के साथ-साथ ‘ठोकीदार’ को भी हटाना है।

सीएम योगी आदित्यनाथ और पीएम मोदी का नाम लिए बगैर अखिलेश ने कहा, ‘यूपी में ठोको नीति चलाने वाले भी हैं।’ रैली में मौजूद लोगों से सवालिया लहजे में अखिलेश ने पूछा, ‘बताओ यहां पर शिक्षा मित्र ठोके नहीं गए? कोई नहीं बचा है जो ठोका न गया हो। बताओ ठोका गया है या नहीं ठोका गया?’

ये भी पढ़े: सिद्धू ने बोला PM मोदी पर हमला कहा- वह ऐसी दुल्हन की तरह है जो रोटी कम बेलती है और चूड़ियां ज्यादा खनकाती है

सीएम योगी के एक पुराने बयान पर उन्हें घेरते हुए अखिलेश ने कहा, ‘एक बयान में उन्होंने कहा था कि संविधान नहीं होता तो हम गाय और भैंस चरा रहे होते। सोचिए, हमारे और आपके लिए यह कैसा दिमाग रखते हैं। ये बीजेपी के लोगों की सोच है। अगर हम गाय- भैंस चरा रहे हैं तो कम से कम हम दूध और घी से काम चला लेंगे। पर, सोचिए अगर देश में संविधान नहीं होता तो आप क्या कर रहे होते …इसी मंदिर में बैठकर घंटा बजा रहे होते।

सांडों के कारण निर्दोष लोगों की जान गई है तो फिर सीएम के खिलाफ कार्रवाई होनी – अखिलेश यादव

सांड को एक बार फिर चुनावी मुद्दा बनाते हुए अखिलेश ने कहा, ‘हरदोई में नाराज सांड सीएम से मिलने शिकायत लेकर गया था। इतना नाराज था कि पुलिस के सुरक्षा घेरा को तोड़कर उनके करीब तक पहुंच गया था। पर, उसे मिलने नहीं दिया गया। इससे वह गुस्सा कर हमारे सुरक्षाकर्मियों पर हमला बोल दिया। सोचिए बीजेपी ने जानवरों तक को दुखी कर दिया है। अगर इन सांडों के कारण निर्दोष लोगों की जान गई है तो फिर सीएम के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए, क्योंकि इसके लिए वह ही जिम्मेदार हैं।’

बस 1 क्लिक पर जानें देश-दुनिया की ताजा-तरीन खबरें Download करें संस्कार न्यूज़ चैनल की Application नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें या फिर play store पे sanskarnews सर्च करें- लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज- https://fb.com/sanskarnewslko/
Loading...