असदुद्दीन ओवैसी ने सुप्रीम कोर्ट को बाबरी मस्जिद ढहाने के लिए जिम्मेदार ठहराया

असदुद्दीन ओवैसी

असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट अगर कार सेवा की इजाजत नहीं देता तो मस्जिद वहां नहीं टूटती

सरकार द्वारा अयोध्या में राम मंदिर के निर्णाण के लिए ट्रस्ट बनाए जाने की घोषणा के साथ ही इसपर राजनीतिक बयानबाजी भी शुरू हो गई है। AIMIM के चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने इस घोषणा के समय पर सवाल उठाया है। वहीं, कांग्रेस ने पीएम मोदी पर वोटों की खेती करने का आरोप लगा डाला है।ओवैसी ने कहा कि संसद का सत्र 11 फरवरी को समाप्त हो रहा है। यह घोषणा 8 फरवरी के बाद की जा सकती है। ऐसा लगता है कि बीजेपी दिल्ली चुनावों को लेकर चिंतित है। उन्होंने कहा कि बाबरी मस्जिद के विध्वंस को हम भूलने वाले नहीं है।

ये भी पढ़े:Ayodhya: प्रधानमंत्री मोदी ने किया राम जन्मभूमि मंदिर के ट्रस्ट का ऐलान
असदुद्दीन ओवैसी

ओवैसी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने अगर कार सेवा की इजाजत नहीं देता तो मस्जिद वहां नहीं टूटती। उन्होंने कहा कि हम अपनी आने वाली पीढ़ी को बताएंगे कि कैसे बाबरी मस्जिद टूटी है। ओवैसी ने कहा कि जिन लोगों ने बाबरी मस्जिद का ढांचा ढहाया था, उन्हें ही मंदिर बनाने का काम सौंपा जा रहा है। बाबरी मस्जिद के विध्वंस को आने वाली नस्लों को भूलने नहीं दिया जाएगा। ओवैसी ने कहा, ‘बाबरी मस्जिद को न तो हम भूलेंगे और न आने वाली पीढ़ियों को भुलाने दिया जाएगा।’ उन्होंने इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट को बाबरी मस्जिद को ढहाने के लिए जिम्मेदार ठहरा दिया।

उधर, कांग्रेस ने भी पीएम मोदी पर निशाना साधा है। कांग्रेस नेता मधुसूदन मिस्त्री ने कहा कि पीएम मोदी वोटों की खेती कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि एक समुदाय विशेष को टारगेट करके मुद्दे उठाए जा रहे हैं। हालांकि उन्होंने साथ ही साफ किया कि इसका असर दिल्ली चुनाव पर नहीं पड़ेगा। उन्होंने कहा कि राम मंदिर एक चुनावी मुद्दा तो था लेकिन सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद यह खत्म हो चुका है। उन्होंने कहा कि बीजेपी अब सीएए और एनआरसी जैसे मुद्दे ले आई है।

बस 1 क्लिक पर जानें देश-दुनिया की ताजा-तरीन खबरें Download करें संस्कार न्यूज़ चैनल की Application नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें या फिर play store पे sanskarnews सर्च करें- लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज- https://fb.com/sanskarnewslko/
Loading...