AYODHYA: मस्जिद के निर्माण के लिए हिंदू मंदिर गिराया गया

AYODHYA

AYODHYA:वरिष्ठ अधिवक्ता सी.एस वैद्यनाथन ने अदालत में कहा कि ‘एएसआई की रिपोर्ट में मगरमच्छ और कछुए की आकृतियों का जिक्र है, जिसका मुस्लिम संस्कृति से कोई लेना-देना नहीं है

सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद जमीन विवाद (Ayodhya Case) की आठवें दिन की सुनवाई के दौरान ‘राम लला विराजमान के वकील ने मंगलवार को एएसआई की रिपोर्ट का जिक्र करते हुए कहा कि (AYODHYA) अयोध्या में मस्जिद का निर्माण करने के लिए हिंदू मंदिर गिराया गया।

ये भी पढ़े:टीवी एक्ट्रेस वाहबिज दोराबजी(Vahbaj Dorabji) दिखी बोल्ड लुक में, तस्वीरें की वायरल

AYODHYA

ये भी पढ़े:पुलिस को मिली बड़ी सफलता, आरोपी मोईन सिद्दीकी उर्फ चोटी कटवा गिरफ्तार

प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई के नेतृत्व वाली, पांच न्यायाधीशों की संविधान पीठ के समक्ष उन्होंने ‘एएसआई की रिपोर्ट से अन्य पुरातात्विक साक्ष्यों का हवाला देते हुए विवादित क्षेत्र में हिन्दू मंदिर होने के दावों को पुख्ता करने की कोशिश की। मामले की सुनवाई अभी चल रही है।

प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई के अलावा पीठ में न्यायमूर्ति एस ए बोबडे, न्यायमूर्ति धनन्जय वाई चन्द्रचूड़, न्यायमूर्ति अशोक भूषण और न्यायमूर्ति एस अब्दुल नजीर भी हैं।

देखे वीडियो-