पिछड़ी जातियों का उत्थान हमारी प्राथिमकता – हीरा ठाकुर

राज्य पिछड़ा आयोग उत्तर प्रदेश (State Backward Commission Uttar Pradesh) के उपाध्यक्ष डॉक्टर हीरा ठाकुर ने कहा कि मोदी व योगी सरकार पिछड़ी जातियों का उत्थान हमारी प्राथिमकता है और हम इसके लिए संकल्पित है

गोरखपुर। राज्य पिछड़ा आयोग उत्तर प्रदेश (State Backward Commission Uttar Pradesh) के उपाध्यक्ष राज्य मंत्री दर्जा प्राप्त डॉक्टर हीरा ठाकुर ने आज सर्किट हाउस में पत्रकार वार्ता के दौरान कहा कि केंद्र की मोदी व प्रदेश की योगी सरकार पिछड़ी जातियों के शैक्षणिक, सामाजिक, राजनैतिक, आर्थिक उत्थान हमारी प्राथिमकता है और हम इसके लिए संकल्पित है। उन्होंने कहा कि सरकार इनके उत्थान के लिए अनेक योजनाएं चला रही है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद देते हुए कहा कि आजादी के 70 वर्ष बाद यह पहली ऐसी सरकार है जिसने पिछड़े वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा दिया है।

घर बैठे फ्रेश नॉनवेज मंगवाए वो भी मार्केट से कम दाम पर, अभी डाउनलोड करे “Lucknow Meat Wala” एंड्राइड ऐप

उन्होंने कहा कि जिन पिछड़ी जातियों की सुनवाई स्थानीय स्तर पर न हो वह (State Backward Commission Uttar Pradesh) पिछड़ा वर्ग आयोग लखनऊ तृतीय तल पर आकर व्यक्तिगत रूप से संपर्क कर सकते हैं । पिछले 7 माह में पिछड़े वर्ग के लोगों के 480 मुकदमे आयोग द्वारा सुने गए जिनमें 322 को आयोग द्वारा न्याय मिला। उन्होंने देश एवं प्रदेश सरकार द्वारा पिछड़ी जातियों के लिए चलाई जा रही योजनाओं के बारे में जानकारी देते हुए अधिकारियों से कहा कि वह अपने कार्यालयों के बाहर पिछड़ी जातियों के लिए चलाई जा रही योजनाओं का प्रचार प्रसार बोर्ड लगवा कर करें।

State Backward Commission Uttar Pradesh

उन्होंने बताया कि सरकार ने पिछड़ी जाति के छात्र छात्राओं को वर्ष 2019- 20 में पूर्व दशम के 17824 छात्र-छात्राओं को 364.92 लॉख रुपए, दशमोत्तर के 56709 छात्र-छात्राओं को 1562.67 लाख रुपए , दशमोत्तर शुल्क प्रतिपूर्ति योजना के तहत 37251 छात्र-छात्राओं को 1180.95 लाख, शादी अनुदान के तहत 444.40 लाख के सापेक्ष 1549 लाभार्थी को लाभान्वित करते हुए 369.80 लाख रुपए सरकार ने पिछड़ी जातियों को दिया है। उन्होंने कहा कि पिछड़ी जाति के छात्र-छात्राओं के लिए निशुल्क ओ लेवल, सीसीसी कंप्यूटर प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

ये भी पढ़े : खाकी हुई बेदाग, बेआबरू करने वाले पहुंचे सलाखों के पीछे

पिछड़ी जाति के छात्र-छात्राओं के लिए छात्रावास योजना के तहत राजकीय जुबली इंटर कॉलेज में छात्रावास पूरा हो चुका है जो विद्यालय को हस्तगत किया जा चुका है। मदन मोहन मालवीय प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय में निर्माण कार्य चल रहा है। प्रदेश की योगी सरकार पूरे प्रदेश में चतुर्दिक विकास कर रही है। कानून व्यवस्था चुस्त एवं दुरुस्त है।