विश्व आद्रभूमि दिवस पर बर्ड वांचिंग एवं पेटिंग प्रतियोगिता

2 फरवरी को गोरखपुर वन प्रभाग एवं हेरिटेज फाउंडेशन द्वारा आयोजित होगा कार्यक्रम

गोरखपुर। 2 फरवरी को पूरी दुनिया में विश्व आर्द्रभूमि दिवस (वर्ल्ड वेटलैंड-डे) मनाया जाएगा। इस खास मौके पर पर्वावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग गोरखपुर वन प्रभाग एवं हेरिटेज फांउडेशन संयुक्त रूप से शहीद अशफाक उल्ला खॉ प्राणी उद्यान एवं रामगढ झील के निकट 2 फरवरी को सुबह 9 बजे से बर्ड वॉच, पेटिंग प्रतियोगिता और वन, पर्यावरण एवं वेटलैंड संरक्षण को लेकर नुक्कड़ नाटक का मंचन आयोजित करेगा।

शहीद अशफाक उल्ला खा प्राणी उद्यान के निकट बोट जेट्टी पर होगा आयोजन

इस कार्यक्रम में अतिथि के रूप में प्राणी उद्यान के निदेशक एच राजा मोहन, मुख्य वन संरक्षक गोरखपुर भीमसेन, जीडीए उपाध्यक्ष अनुज सिंह होंगे।
डीएफओ अविनाश कुमार ने बताया कि नदियों, झीलों, तालाबों के संरक्षण के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए साल 1971 में 2 फरवरी को ईरान के रमसर में वेटलैंड कन्वेंशन को अपनाया गया।

नुक्कड़ नाटक एवं रंगोली के जरिए भी देंगे वेटलैड संरक्षण का संदेश

कई देशों ने आर्द्रभूमियों के संरक्षण के लिए एक संधि पर हस्ताक्षर किए। तब से यह हर साल मनाया जाता है। उन्होंने बताया कि 2 फरवरी को सुबह 9 बजे से शहीद अशफाक उल्ला खॉ प्राणी उद्यान एवं रामगढ़ झील बोट जेट्टी के करीब 9-10वीं एवं 11-12वीं के छात्रों की पेटिंग प्रतियोगिता आयोजित होगी।

इस प्रतियोगिता का विषय ‘वेटलैंड संरक्षण’ होगा। आयोजन स्थल पर छात्रों को ड्राइंग सीट मुहैय्या की जाएगी लेकिन पेटिंग बनाने के लिए सामग्री छात्रों को स्वयं ही लानी होगी। इसके अलावा वेटलैंड संरक्षण पर अभिव्यक्तियां दर्ज कराने के लिए ‘वॉल’ बनाई जाएगी।

इस वॉल पर छात्र एवं नागरिक जागरूकता भरे नारे लिख सकेंगे। बर्ड वांचिंग एवं नेचर वॉक करा लोगों को रामगढ़ झील के पक्षियों से परिचित भी कराया जाएगा। नाट्य दल गोरखपुर के रंगकर्मी गुलाम हसन खान एवं उनकी टीम नुक्कड़ नाटक भी प्रस्तुत करेगी। छात्राओं द्वारा यहां वेटलैंड संरक्षण का संदेश देती रंगोली भी बनाई जाएगी।

अविनाश कुमार कहते हैं कि उनकी कोशिश है कि शहवासी वेटलैंड संरक्षण के प्रति जागरूक हो, ताकि जनसहभागिता से वेटलैंड संरक्षण के आंदोलन को तेज किया जा सके। हेरिटेज फाउंडेशन नरेंद्र कुमार मिश्र, अनिता अग्रवाल एवं हेरिटेज एवियंस के संयोजक अनुपम अग्रवाल एवं अभिषेक त्रिपाठी ने शहवासियों से ज्यादा से ज्यादा की संख्या में शामिल होने का अपील किया है।

विश्व आद्रभूमि दिवस पर डॉक्यूमेंट्री फिल्मों का होगा प्रदर्शन

गोरखपुर। विश्व आद्रभूमि दिवस 2 फरवरी को रसायन विज्ञान विभाग, दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय और हेरिटेज फाउंडेशन के संयुक्त तत्वावधान में ‘पर्यावरण और आद्र भूमि’ विषयक डॉक्यूमेंट्री फिल्मों का प्रदर्शन होगा। इसके अलावा ‘मॉडर्न डेवलपमेंट एंड एन्वायरेंटल नीड्स’ विषयक डिबेट भी आयोजित होगा।

गोरखपुर विश्वविद्यालय के रसायन विज्ञान विभाग में होगा आयोजन

जिसमें इस विभाग के छात्र-छात्राएं विषय के पक्ष और विपक्ष में अपने विचार रखेंगे। कार्यक्रम की अध्यक्षता दीदउ गोरखपुर विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर राजेश सिंह करेंगे। मुख्य अतिथि हेरिटेज फाउन्डेशन की संरक्षक श्रीमती अनीता अग्रवाल होंगी। कार्यक्रम की समन्यवक रसायन विज्ञान विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ सुधा यादव ने बताया कि कार्यक्रम दोपहर 12:30 से 2:30 तक रसायन विज्ञान विभाग के रिसर्च बिल्डिंग के प्रथम तल स्थित हाल में आयोजित होगा।

मॉडर्न डेवलपमेंट एंड एन्वायरेंटल नीड्स’ विषयक डिबेट भी आयोजित होगा

कार्यक्रम में अधिष्ठाता विज्ञान विभाग प्रोफेसर शांतनु रस्तोगी एवं वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर अनिल कुमार तिवारी भी अपने विचार रखेंगे। कार्यक्रम के आयोजन समिति की सदस्य डॉ सीमा मिश्रा और डॉ प्रीती गुप्ता ने बताया कि इस कार्यक्रम में तीन फिल्मों, गंगा-हरितिमा, टाइमलेस-ट्रैवलर और ब्रोकन विंग्स का प्रदर्शन होगा। विशेषज्ञ फिल्मों पर अपने विचार रखेंगे।

कार्यक्रम को सुचारू रूप से चलाने के लिए डॉ गीता सिंह, डॉ प्रदीप राव, डॉ सचिन कुमार सिंह और डॉ विनीता और अन्य का सहयोग रहेगा। इस अवसर पर डिबेट में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया जाएगा।

कार्यक्रम के सह आयोजक हेरीटेज फाउंडेशन के मैनेजिंग ट्रस्टी नरेंद्र मिश्र ने बताया कि कार्यक्रम में सभी विभागों के विभागाध्यक्ष भी उपस्थित रहेंगे ।

बस 1 क्लिक पर जानें देश-दुनिया की ताजा-तरीन खबरें Download करें संस्कार न्यूज़ चैनल की Application नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें या फिर play store पे sanskarnews सर्च करें- लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज- https://fb.com/sanskarnewslko/
Loading...