पिछड़ी जातियों को गुमराह करने का काम कर रही भाजपा – सपा नेता संजय कश्यप

सपा नेता संजय कश्यप

उ0 प्र0 के मुख्यमंत्री ने 17 पिछड़ी जातियों को एससी में शामिल करने की खबर को मीडिया चैनलों के माध्यम से उड़ाया था, जबकि संविधान के अनुसार किसी भी राज्य सरकार को इसका कोई अधिकार नहीं है।

रिपोर्ट @ आदर्श गुप्ता

हरदोई। सपा नेता संजय कश्यप (SP leader Sanjay Kashyap) ने अपने आवास पर प्रेस वार्ता कर बताया कि भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) की सरकार ने हमेशा सभी जातियों के साथ खिलवाड़ करने का काम किया है। अभी कुछ ही दिन पूर्व भाजपा सरकार के उ0 प्र0 के मुख्यमंत्री ने 17 पिछड़ी जातियों को एससी में शामिल करने की खबर को मीडिया चैनलों के माध्यम से उड़ाया था। जो की वोट बैंक की राजनीति को लेकर उन्होंने यह बयान दिया था जबकि संविधान के अनुसार किसी भी राज्य सरकार को इसका कोई अधिकार नहीं है इसका केवल आधार यूपी में होने जा रहे 12 उपचुनाव व 2022 के चुनाव को लेकर उन्होंने इन 17 जातियों के साथ खिलवाड़ करने का कार्य किया।

सपा नेता संजय कश्यप (SP leader Sanjay Kashyap) ने बताया मा0 नेताजी मुलायम सिंह यादव व माननीय अखिलेश यादव जी ने हमेशा ही इन 17 जातियों के लिए लड़ने का कार्य किया और राज्य सरकार ने पहले ही इनको अनुसूचित जाति में दर्जा के लिए एक प्रस्ताव बनाकर केंद्र सरकार को भेजने का कार्य मा0 श्री अखिलेश यादव जी ने किया था।

ये भी पढ़े: बल्लेबाज अंबाती रायुडू को मिला दूसरे देश की नागरिकता का ऑफर

दिसंबर 16 में सपा सरकार ने पहले ही अनुसूचित जाति में शामिल करने के लिए यह प्रस्ताव भेज चुके थे। अगर भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) इन 17 जातियों को अनुसूचित जाति में शामिल करना चाहती है तो उनको लोकसभा राज्य सभा दोनों में बिल पास कराकर शामिल कराने का कार्य करें और इनको अनुसूचित जाति के कोटे में शामिल कर उसका कोटा बढ़ाने का कार्य करें। तभी इन जातियों को लाभ मिलेगा।

प्रेस वार्ता के दौरान छात्रसभा के पूर्व राष्ट्रीय सचिव मुकुल सिंह आशा, जिलाध्यक्ष यूथ ब्रिगेड रामज्ञान गुप्ता, सपा नेता जब्बार खां ,सन्तराम कश्यप, उजागर लाल निषाद, प्रभु कश्यप, सुमन कश्यप, सोनू कश्यप आदि लोग मौजूद रहे।

देखे वीडियो- 

बस 1 क्लिक पर जानें देश-दुनिया की ताजा-तरीन खबरें Download करें संस्कार न्यूज़ चैनल की Application नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें या फिर play store पे sanskarnews सर्च करें- लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज- https://fb.com/sanskarnewslko/
Loading...