तीन तलाक (triple talaq) बिल, मॉब लिंचिंग (mob lynching) व कुर्बानी पर चर्चा

triple talaq

तीन तलाक (triple talaq) बिल वापस लिए जाने व मॉब लिंचिंग (mob lynching) पर कानून बनाने को लेकर ईद-उल-अजहा पर्व के बाद राष्ट्रपति को संबोधित एक ज्ञापन जिला प्रशासन को सौंपे जाने पर सहमति बनी

गोरखपुर। तंजीम उलेमा-ए-अहले सुन्नत व इमामचौक मुतवल्ली एक्शन कमेटी की बैठक दरगाह हजरत मुबारक खां शहीद नार्मल परिसर में हुई। जिसमें तीन तलाक (triple talaq) बिल वापस लिए जाने व मॉब लिंचिंग पर कानून बनाने को लेकर ईद-उल-अजहा पर्व के बाद राष्ट्रपति को संबोधित एक ज्ञापन जिला प्रशासन को सौंपे जाने पर सहमति बनी। वहीं कुर्बानी को लेकर चर्चा की गयी। अपील की गई कि ईद-उल-अज़हा पर्व शांति के साथ मनाया जाए।

ये भी पढ़े: लखनऊ: 1090 चैराहे पर मनेगा आज़ादी का जश्न (Celebration of freedom)

triple talaq

अपनी तालीमगाहों को आधुनिक शिक्षा पद्घति से जोड़ना होगा ताकि दुनिया के बदलते परिवेश में अपने किरदार को पेश कर सकें

साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखा जाए। मदरसों को कुर्बानी के जानवर की खाल के साथ बेहतर रकम दी जाए। यह भी कहा गया कि हमें संवैधानिक अधिकारों को पामाल होने से बचाना होगा। इसके लिए अपनी तालीमगाहों को आधुनिक शिक्षा पद्घति से जोड़ना होगा ताकि दुनिया के बदलते परिवेश में अपने किरदार को पेश कर सकें। हमें मुत्तहिद होकर शरीयत का मसला हल करना चाहिए।

ये भी पढ़े: बकरीद के मौके पर,(kashmir) कश्मीर की जनता को सरकार की तरफ से तोहफा

बैठक में दरगाह कमेटी के अध्यक्ष इकरार अहमद, सेक्रेटरी मंजूर आलम, मौलाना मकसूद आलम मिस्बाही, मुफ्ती अख्तर हुसैन, मुफ्ती मो. अजहर शम्सी, हाफिज मो. आमिर हुसैन, मनोव्वर अहमद, कारी रईसुल कादरी, कारी शराफत हुसैन कादरी, खैरुल बशर, अब्दुल्लाह, मौलाना जहांगीर अहमद अजीजी, हाफिज नजरे आलम कादरी, हाजी कलीम फरजंद, मौलाना रियाजुद्दीन कादरी, मौलाना मो. उमर फारुक अमजदी, मौलाना बदरुल हसन, मौलाना मो. असलम रज़वी, हाफिज रहमत अली निज़ामी, उमर कादरी सहित तमाम लोग मौजूद रहे।

देखे वीडियो –

बस 1 क्लिक पर जानें देश-दुनिया की ताजा-तरीन खबरें Download करें संस्कार न्यूज़ चैनल की Application नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें या फिर play store पे sanskarnews सर्च करें- लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज- https://fb.com/sanskarnewslko/
Loading...