डीएम व एसपी ने जिला जेल में की छापेमारी, बरामद हुईं आपत्तिजनक वस्तुएं

जिलाधिकारी ने बरामद की गई वस्तुओं व छापेमारी की पूरी रिपोर्ट अपर मुख्य सचिव गृह उत्तर प्रदेश को भेजी रिपोर्ट, 

गोण्डा। शनिवार को जिला जेल में डीएम व एसपी की छापेमारी से हड़कम्प मच गया। डीएम व एसपी ने दोपहर अचानक जिला जेल पहुंचकर बड़े पैमाने पर संयुक्त सघन तलाशी अभियान चलाया और तमाम आपत्तिजनक वस्तुएं बरामद कीं। जिलाधिकारी ने बरामद की गई वस्तुओं व छापेमारी की पूरी रिपोर्ट अपर मुख्य सचिव गृह उत्तर प्रदेश को भेज दी है।

दोपहर बाद डीएम व एसपी सिटी मजिस्ट्रेट, सीओ सिटी तथा 20 दरोगा व पचास पुलिस आरक्षियों केे साथ जिला जेल पहुंचे। जिला कारागार में कुल 14 बैरकों की सघन तलाशी के लिए डीएम ने 14 टीमें बनाते हुए महिला बैरक के लिए महिला दरोगा व आरक्षियों, तथा पुरूष बैरक के लिए पुरूष दरोगा व उनके साथ चार-चार पुलिस के जवानों को लगाया तथा डीएम व एसपी स्वयं परिसर की तलाशी में जुट गए। छापेमारी के दौरान महिला बैरक सहित अन्य सभी बैरकों में ब्लेड, चाकू, लाइटर, तवा, माचिस, तम्बाकू, गुटखा, कैंची, सिगरेट के पैकेट सहित भारी मात्रा तम्बाकू जैसे मादक पदार्थ बरामद किए गए। जिलाधिकारी ने जेल अधीक्षक को चेतावनी देते हुए प्राप्त हुई आपत्तिजनक वस्तुओं तथा छापेमारी की पूरी रिपोर्ट अपर मुख्य सचिव गृह उत्तर प्रदेश को भेज दिया है। छापेमारी के दौरान बैरक परिसर में गन्दगी पर नाराजगी व्यक्त करते हुए डीएम ने पूरे जेल में साफ-सफाई दुरूस्त कराने के भी निर्देश जेल अधीक्षक को दिए हैं। उन्होने बरामद हुई वस्तुओं पर गहरी नाराजगी व्यक्त करते हुए जेल अधीक्षक से पूछा कि जेल के अन्दर ये सब चीजें कैसे आ गई। उन्होने चेतावनी हेते हुए कहा कि सुधार कर लें वरना अगली छापेमारी में यही स्थिति मिलने पर कार्यवाही के लिए तैयार रहें।

इस दौरान नगर मजिस्ट्रेट सुभाषचन्द्र प्रजापति, सीओ सिटी ब्रम्ह सिंह, जेल अधीक्षक शशिकान्त सिंह, जेलर, डिप्टी जेलर उपस्थित रहे।