दोस्त ने रची मौत की खौफनाक साजिश, 5 लाख रूपये के लिए उतारा मौत के घाट

दोस्त ने रची मौत की खौफनाक साजिश

उधार के पांच लाख रुपए वापस मांगने पर दंपत्ति को उतारा मौत के घाट

गोरखपुर। निकला दोस्त का कातिल, दोस्ती में जान लेते तो आपने देखा और सूना होगा, लेकिन गोरखपुर की इस घटना ने दोस्ती के रिश्ते को शर्मसार कर दिया है, एक दोस्त ने ही अपने दोस्त के साथ साथ उसकी पत्नी को भी मौत के घाट उतार दिया, वजह थी, महज 5 लाख रूपये, 5 लाख रूपये वापस न देना पड़े, इसलिए दोस्त ने रच दी खौफनाक साजिश, और उतार दिया मौत के घाट।

दोस्‍त और दोस्‍ती के लिए लोग अपनी जान तक कुर्बान कर देते हैं, लेकिन सीएम सिटी में ऐसा हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है, जहां उधार के पांच लाख रुपए वापस मांगने पर युवक ने दोस्‍त और उसकी पत्‍नी की नृशंस तरीके से सर्जिकल ब्‍लेड से गला रेतकर हत्‍या कर दी, इसके पहले उन्‍हें धोखे से बुलाया, और बेहोश करके साथी के साथ मिलकर दोनों का गला रेत कर हत्‍या कर शव खेत में फेंक दिया, पुलिस ने एक सप्‍ताह बाद दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर सनसनीखेज दोहरे हत्‍याकांड का पर्दाफाश कर दिया।

दोस्त ने रची मौत की खौफनाक साजिश

एसएसपी डा. सुनील गुप्‍ता ने घटना का खुलासा करते हुए बताया कि सहजनवां इलाके के पाली ब्‍लॉक के भक्‍सा गांव के पास शुक्रवार 8 मार्च को पुरुष और महिला की लाश मिली थी, दोनों की उम्र 35 से 32 वर्ष के आसपास थी, कुछ ही घंटे के बाद दोनों की शिनाख्‍त खोराबार इलाके के महुईसुधरपुर के रहने वाले रविन्‍द्र निषाद और उसकी पत्‍नी संगम निषाद के रूप में हुई थी, दोनों की गला रेतकर हत्‍या की गई थी, मौके से पुलिस को सर्जिकल ब्‍लेड और ग्‍लब्‍स भी मिले थे, रविन्‍द्र ठेके पर प्‍लम्‍बर का काम करता था, घटना की जांच-पड़ताल और सर्विलांस की मदद से पुलिस ने दो युवकों को गिरफ्तार कर घटना का खुलासा कर दिया, पुलिस ने आरोपियों को सहजनवां जीरो प्‍वाइंट से गिरफ्तार किया है, उनके पास से पुलिस ने एक हुण्‍डई कार आई-20, सर्जिकल ब्‍लेड, दो आधार कार्ड और एक पैन कार्ड बरामद किया है।

ये भी पढ़े: 19 मार्च को देश भर में चीनी सामानों की जलाई जाएगी होली

चिलुआताल इलाके के काजीपुर डोहरिया के रहने वाले अजीज ने रविन्‍द्र की गहरी दोस्‍ती थी, रविन्‍द्र ने अजीज को पांच लाख रुपए उधार दिए थे, वो बराबर अजीज से रुपए वापस करने का दबाव बना रहा था, अजीज ने ये बात अपने दोस्‍त कुशीनगर के कोतवाली इलाके के गायत्रीनगर के रहने वाले गुलाम सरवर को बताई, वो मरीजों के इलाज के लिए सेवा अस्‍पताल नाम का एनजीओ चलाता है, दोनों ने मिलकर रविन्‍द्र को रास्‍ते से हटाने का प्‍लान बनाया, और 7 मार्च की शाम 6 बजे उसे रुपए देने के लिए बुलाया, संयोग से वो अपनी पत्नी संगम का इलाज कराने के लिए जा रहा था, और उसे भी लेकर चला गया, प्‍लान के तहत दोनों ने रविन्‍द्र और उसकी पत्‍नी को बेहोश कर दिया, और उसके बाद सर्जिकल ब्‍लेड से गला रेतकर उसकी हत्‍या कर शव को एम्‍बुलेंस से ठिकाने लगा दिया, गुलाम सरवर ने बताया, कि अजीज के कहने पर ही उसने सारा इंतजाम किया था, मर्डर अजीज ने ही किया है, जबकि अजीज गुलाम सरवर पर ही मर्डर का प्‍लान बनाने का आरोप लगाता रहा, दोस्‍त और उसकी पत्‍नी की हत्‍या का दोनों को जरा भी अफसोस नहीं था।

घटना के दिन शाम से दोनों की आखिरी बार घरवालों की रविन्द्र से बात हुई थी, वहीं संगम दवा कराने की बात कहकर घर से निकली थी, उसके बाद से ही दोनों का मोबाइल स्विच ऑफ हो गया, उन्‍होंने बताया कि रातभर खोजबीन हुई, सभी रिश्‍तेदारों के यहां भी कॉल किया गया, लेकिन दोनों का कहीं कोई पता नहीं चला, सुबह वाट्सएप और सोशल मीडिया के माध्‍यम से फोटो देखने के बाद उनकी शिनाख्‍त हुई, उन्‍होंने बताया कि उनके दो छोटे बच्‍चे 12 साल का आदित्‍य और सात साल का अभय दोनों की हत्‍या के बाद अनाथ हो गए, 15 साल पहले रविन्‍द्र और संगम की शादी हुई थी, आज इनके जाने के दो मासूम बच्चे बिना मा बाप के जीने को मजबूर होंगे।

ये भी पढ़े: भाबी जी घर पर हैं की अनीता भाभी ने करवाया स्पेशल फोटोशूट, देखिए तस्वीरें

बस 1 क्लिक पर जानें देश-दुनिया की ताजा-तरीन खबरें Download करें संस्कार न्यूज़ चैनल की Application नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें या फिर play store पे sanskarnews सर्च करें- लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज- https://fb.com/sanskarnewslko/
Loading...