Summer Vacation: लीजिये गर्मियों की छुट्टियों (Summer Vacation) का मज़ा कुछ प्रसिद्ध जगह घूमकर, यहां नहीं घूमा तो कुछ नहीं घूमा

- in राज्य

लखनऊ में अगर आप गर्मियों की छुट्टियों (Summer Vacation) में घूमने की सोच रहे है तो ये खबर आपके लिए महत्वपूर्ण है जानिए कुछ स्थानो के बारे में जहा घूमकर आप गर्मियों की छुट्टी का आनंद ले सकते है।

Lucknow। गर्मियों की छुट्टियां (Summer Vacation) शुरू होने वाली है । ऐसे में आप घूमने के लिए सोच ही रहे होंगे। जिससे आपकी गर्मी की छुट्टियां (Summer Vacation) ख़राब ना हो। इस खबर के माध्यम से हम आपको लखनऊ के ऐसे जगहों के बारे में बतायेंगे जो आपको बेहद पसंद आएगी। इन जगहों पर आपको आपके जरुरत की सारी चीज़े मिल जायेगी। इसके साथ ही आपका पसंदीदा भोजन भी उपलब्ध रहेगा। तो चलिए हम जानते हैं कि घूमने के लिए कौन सी जगह अच्छी रहेगी।

लखनऊ (Lucknow) का ऐतिहासिक स्थल इमामबाड़ा

लखनऊ एक ऐसा शहर है जो अपने भव्य इमारतों के कारण प्रसिद्ध है। जिसमे बड़ा इमामबाड़ा भी एक महत्वपूर्ण ऐतिहासिक स्थल है। इसे भूल भुलैया के नाम से भी जाना जाता है। इसका निर्माण आसफ – उद – दौरानी 1784 में करवाया था । इसे मरहूम हुसैन अली की शहादत की याद में बनवाया गया ।इसकी दूरी स्टेशन से 4.7 किलोमीटर की है। ईरानी निर्माण शैली की बनी विशाल गुंबदनुमा इमारत देखने में बेहद खूबसूरत है। इमारत की छत तक जाने के लिए अनेक सीढ़ियां है जो आम आदमी को चक्रव्यूह में फसा देती है । अगर आम इंसान बिना किसी गाइड के मदद के स्मारक में प्रवेश करता है तो वह निश्चित ही इसमें भूल जाएगा। इसका नाम भूल भुलैया है। इस इमारत की खूबसूरती में चार चाँद लगाने के लिए अनेक रोशन दान बनाए गए हैं जहां से प्रवेश द्वार से आने वाले प्रत्येक व्यक्ति पर नजर रखा जा सकता है किंतु प्रवेश करने वाले व्यक्ति उन्हें देख नहीं सकते । दीवारों को इस तकनीकी से बनाया गया है कि दूर खड़ा व्यक्ति अगर धीमे धीमे बात करता है तो उसकी आवाज स्पष्ट रूप से सुनाई देती है।गर्मियों की छुट्टियों (Summer Vacation) में आप यहां नहीं आये तो आपको पता नहीं चल पायेगा इमामबाड़े में भीषण गर्मी होने के बावजूद आपको ठंडक प्रदान करेगी।

ये भी पढ़े :अरहर की दाल डॉयबिटीज़ (Diabetes) के मरीजों के लिए होगी फायदेमंद जानिए इसके अन्य फायदे

भारत का सबसे लंबा क्लॉक टावर हुसैनाबाद क्लॉक टावर

गर्मियों की छुट्टियों (Summer Vacation) का आनंद लेने के लिए आप क्लॉक टावर का भ्रमण कर सकते है शाम के टाइम आपको यहाँ का नज़ारा बहुत अच्छा लगेगा। दिन में इमामबाड़ा घूमने निकले शाम में आप घंटाघर चले आये सबसे अच्छी बात ये है की ये इमामबाड़ा के बेहद करीब है इसका इतिहास बताते है की यह टावर भारत में विक्टोरियन गोथिक शैली की वास्तुकला को प्रदर्शित करती है ।

इस घंटाघर का निर्माण 1887 मे नवाब नसीरुद्दीन हैदर ने सर जॉर्ज कपूर की आगमन पर करवाया था। भारत की सबसे ऊंची घंटाघर की ऊंचाई 67 मीटर यानी 221 फीट है।इसे लंदन के बिग बेन क्लॉक टावर प्रतिकृति के रूप में बनाया गया था।
इसकी खास बात यह है,कि इसकी विशाल पेंडुलम की लंबाई 14 फीट है और घड़ी की डायल 12 – पूरी तरह से सोने के फूल के आकार की डिजाइन की गई है और इसके चारों ओर घंटियां है।

जनेश्वर मिश्र पार्क

यह पार्क लखनऊ के गोमती नगर एक्सटेंशन में स्थित है। एशिया के सबसे बड़े पार्क जनेश्वर मिश्र पार्क में प्रवेश टिकट 10 रुपए का लगेगा । 12 साल से कम व 60 साल से ऊपर और दिव्यांगों को फ्री एंट्री मिलेगी। यहां 40 एकड़ में बनी खूबसूरत सी झील पर्यटकों के मन को मोह लेती है। आप इस सुन्दर झील में चाहे तो नाव की सवारी (Boating) का भरपूर आनंद ले सकते है। यहां की हरियाली और खूबसूरती फोटोशूट के लिए अच्छी मानी जाती है।यहाँ आकर गर्मियों की छुट्टियो (Summer Vacation) का भरपूर आंनद ले सकते है।

नवाब वाजिद अली शाह जूलॉजिकल गार्डन

बच्चो के लिए गर्मियों की छुट्टियो (Summer Vacation) में चिड़िया घर घूमने के लिए बेहतर माना गया है।चिड़ियाघर में हजारों पशु पक्षियों की धुन आपके साथ साथ आपके बच्चों को सुकून देगी। यहां झील में आप चाहें तो पेडल बोटिंग का लुत्फ़ उठा सकते हैं। यहां पर विलुप्त हो चुकी कई प्रजाति के वन्यजीव मौजूद हैं। इसके अलावा यहां बच्चों के लिए बाल रेल, संग्रहालय, तितली पार्क (जिसमें 75 प्रजाति की तितलियों को देखा जा सकता है), फिश हाउस, आउल हाउस को भी देखा जा सकता है। इसके खुलने का समय सुबह 9 और बन्द होने का समय 5 बजे है।

आनंदी वाटर पार्क

गर्मियों की छुट्टियो (Summer Vacation) का असली मज़ा पानी में रहकर ही है बच्चे बूढ़े सभी इसका भरपूर आनंद लेते है वाटर पार्क में पूरा दिन बिताने वाला समय होता है यहां फुर्सत से आये भरपूर इसका मज़ा ले। यहां आप लहरों को छू सकते हैं। बारिश का भी मज़ा ले सकते हैं। यह वाटर पार्क फैजाबाद रोड पर इंदिरा नहर के पास है। यहां बने स्विमिंग पूल आपको तरोताजा कर देंगे। ये भी कह सकते हैं कि अगर आप समुद्र किनारे बैठे हुए पल को कुछ देर के लिए जीना चाहते हैं तो यह जगह बेहतर है। टिकट की कीमत वयस्‍कों के लिए 700 जबकि बच्‍चों के लिए 600 है।

कला गांव

गर्मियों की छुट्टियो (Summer Vacation) में पहले सभी अपने गांव जाना पसंद करते थे कला गांव इसी थीम पे बनाया गया है की आप अपने गांव की याद आ जाएगी और आप एकदम तरोताज़ा हो जायेंगे।
सभी आगंतुको का स्वागत ढोल नगाड़ा तथा रोली तिलक के साथ किया जाता है जिससे यह लखनऊ का एक प्रसिद्ध पर्यटन केंद्र के रूप में जाना जाता है।

कला गांव लखनऊ से फैजाबाद हाईवे पर स्थित इंदिरा नहर के बगल में स्थित है यह मुख्यतः एक आर्ट ग्राम है जिसमें अवधी थीम पर एक गांव बनाया गया है। गांव में मिट्टी की दीवारों से निर्मित घर हैं,तथा अनेकों प्रकार के क्रियाकलापों को आयोजित किया जाता है। यहाँ पर ऋतुओं के अनुसार लोक नृत्य का आयोजन किया जाता है। छोटा इमामबाड़ा लखनऊ रेलवे स्टेशन से लगभग 4.5 किमी तथा एयरपोर्ट से 14 किमी की दूरी पर स्थित है। यहाँ कैब, ऑटो, या पर्सनल गाड़ी से पंहुचा जा सकता है। कैसरबाग़ बस स्टेशन से मात्र 3.5 किमी की दूरी पर स्थित है।यहाँ का टिकट वयस्कों के लिए ₹500 बच्चों के लिए(4 से 9 वर्ष)- ₹300 यहाँ लंच तथा डिनर की भी उत्तम व्यवस्था है,जो टिकट के शुल्क में ही सम्मिलित है।

वीडियो में खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

Click Here & Download Now The Lucknow Meat Wala App

कला गांव
गर्मियों की छुट्टियो में पहले सभी अपने गांव जाना पसंद करते थे कला गांव इसी थीम पे बनाया गया है की आप अपने गांव की याद आ जाएगी और आप एकदम तरोताज़ा हो जायेंगे।
सभी आगंतुको का स्वागत ढोल नगाड़ा तथा रोली तिलक के साथ किया जाता है जिससे यह लखनऊ का एक प्रसिद्ध पर्यटन केंद्र के रूप में जाना जाता है।
कला गांव लखनऊ से फैजाबाद हाईवे पर स्थित इंदिरा नहर के बगल में स्थित है यह मुख्यतः एक आर्ट ग्राम है जिसमें अवधी थीम पर एक गांव बनाया गया है। गांव में मिट्टी की दीवारों से निर्मित घर हैं,तथा अनेकों प्रकार के क्रियाकलापों को आयोजित किया जाता है। यहाँ पर ऋतुओं के अनुसार लोक नृत्य का आयोजन किया जाता है।छोटा इमामबाड़ा लखनऊ रेलवे स्टेशन से लगभग 4.5 किमी तथा एयरपोर्ट से 14 किमी की दूरी पर स्थित है। यहाँ कैब, ऑटो, या पर्सनल गाड़ी से पंहुचा जा सकता है। कैसरबाग़ बस स्टेशन से मात्र 3.5 किमी की दूरी पर स्थित है।यहाँ का टिकट वयस्कों के लिए ₹500 बच्चों के लिए(4 से 9 वर्ष)- ₹300यहाँ लंच तथा डिनर की भी उत्तम व्यवस्था है,जो टिकट के शुल्क में ही सम्मिलित है।