विकास खण्ड मुख्यालयों पर मनाया गया किसान कल्याण दिवस

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का सपना है वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुना हो जाए

बहराइच। ग्राम स्वराज अभियान अन्तर्गत किसान कल्याण दिवस के अवसर पर जनपद के समस्त विकास खण्डों पर किसान कल्याण दिवस मनाया गया। जिसमें कृषि सेक्टर में उल्लेखनीय प्रगति करने वाले सात-सात किसानों को सम्मानित किया गया। ब्लाक चित्तौरा का किसान कल्याण दिवस कृषि विज्ञान केन्द्र के सभागार में भारतीय जनता पार्टी के जिलाध्यक्ष श्यानकरन टेकड़ीवाल व पूर्व विधानसभा प्रभारी कैसरगंज हनुमान प्रसाद शर्मा की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ।

कृषि विज्ञान केन्द्र सभागार में आयोजित किसान कल्याण दिवस को सम्बोधित करते हुए भाजपा जिलाध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का सपना है वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुना हो जाए। उन्होंने कहा कि गाॅव, गरीब व किसान केन्द्र व राज्य सरकार की शीर्ष प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि किसानों की आय में बढ़ोत्तरी के सरकार ने गेहॅू खरीद के लिए 1735=00 रू. समर्थन मूल्य निर्धारित किया गया है। उन्होंने कहा कि इससे पूर्व जनपद में रिकार्ड गेहूॅ व धान की खरीद की गयी। उन्होंने कहा कि सरकार ने फसली ऋण मोचन योजना के माध्यम से किसानों के चेहरे पर खुशहाली लाने का कार्य किया है। उन्होंने कहा कि जनपद में खाद, बीज की कोई कमी है, उन्होंने किसानों का आहवान्ह किया कि मृदा परीक्षण के महत्व को समझे और उसी के अनुसार संतुलित उर्वरक का प्रयोग करें।

श्री टेकड़ीवाल ने किसानों को यह भी सुझाव दिया कि अपनी आय में वृद्धि के लिए कृषि आधारित उद्योगों को भी अपनायें। उन्होंने कहा कि रेशम कीटपालन, कुक्कुट, डेयरी, मत्स्यपालन, मधुमक्खीपालन इत्यादि के लिए संचालित सरकारी योजनाओं का लाभ प्राप्त कर अपनी आय में बढ़ोत्तरी करें। उन्होंने कहा कि खुशहाल भारत के लिए किसानों का खुशहाल होना ज़रूरी है।

प्रगतिशील कृषक हनुमान प्रसाद शर्मा ने किसानों का आहवान्ह किया कि पशुपालन विभाग में उपलब्ध साहिवाल गाॅय के सीमोन का लाभ प्राप्त करें, इस विधि से 90 प्रतिशत तक बछिया के पैदा होने की संभावना रहती है। उन्होंने कहा कि इस योजना के परवान चढ़ने से छुट्टा जानवरों की समस्या से भी छुटकारा मिल जायेगा। इस अवसर पर श्री शर्मा ने फसल बीमा योजना का उल्लेख करते हुए किसानों का आहवान्ह किया कि इस योजना का अधिकाधिक लाभ उठायें। इस अवसर पर भाजपा मण्डल अध्यक्ष चित्तौरा ने कृषि प्रदान देश भारत में किसानों के लिए विशेष पैकेज की व्यवस्था का भी सुझाव दिया।

इससे पूर्व कृषि विज्ञान केन्द्र परिसर में आयोजित किसान कल्याण दिवस का मुख्य अतिथि श्यामकरन टेकड़ीवाल व विशिष्ट अतिथि हनुमान प्रसाद शर्मा ने पं. दीनदयाल उपाध्याय के चित्र पर माल्यार्पण कर कल्याण दिवस का शुभारम्भ किया। इस अवसर पर अपनी आय में वृद्धि करने वाले किसानों को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के दौरान प्रगतिशील कृषक रामकेवल गुप्ता व शक्तिनाथ सिंह ने किसानों को अपनी आय में वृद्धि करने के सम्बन्ध में महत्वपूर्ण सुझाव दिये जबकि उप निदेशक कृषि डा. आर.के. सिंह ने विभाग द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं एवं कार्यक्रमों के बारे में जानकारी प्रदान की। इस अवसर पर कृषि सेक्टर से सम्बन्धित विभागों के अधिकारी, कृषि वैज्ञानिक, प्रगतिशील कृषक व बड़ी संख्या किसान मौजूद रहे।

उल्लेखनीय है कि विकास खण्ड मिहींपुरवा में आयोजित किसान कल्याण के मुख्य अतिथि जिला महामंत्री आनन्द गोंड, बलहा में पूर्व जिला उपाध्यक्ष योगेश प्रताप सिंह, नवाबगंज में पूर्व विधायक दिलीप कुमार वर्मा, शिवपुर में जिला प्रभारी सहकारिता घनश्याम सिंह, महसी में जिला उपाध्यक्ष रणविजय सिंह, तेजवापुर में लोकसभापालक बहराइच श्रीनाथ शुक्ल, फखरपुर में विधानसभा संयोजक कैसरगंज गौरव वर्मा, कैसरगंज में पूर्व जिला महामंत्री राजराज वर्मा, जरवल में पूर्व सदस्य प्रदेश कार्य समिति प्रमोद गुप्ता, विशेश्वरगंज पूर्व जिला महामंत्री राकेश सिंह, पयागपुर में पूर्व जिला अध्यक्ष गुलाब चन्द्र शुक्ल, हुजूरपुर में जिला महामंत्री जितेन्द्र त्रिपाठी तथा रिसिया में प्रदेश उपाध्यक्ष पदमसेन चैधरी रहे।
किसान कल्याण दिवस के अवसर पर कृषि के माध्यम से अपनी आय में उल्लेखनीय वृद्धि करने वाले किसानों को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर सम्मानित किसानों ने कार्यक्रम में मौजूद किसानों के साथ अपने अनुभव साझा करते हुए उन्हें भी कृषि के माध्यम से आय में गुणत्मक वृद्धि के लिए महत्वपूर्ण सुझाव दिये गये। ब्लाक मुख्यालयों पर आयोजित होने वाले किसान कल्याण दिवस के अवसर पर पशुपालन विभाग द्वारा पशु चिकित्सा शिविर आयोजित कर लगभग 467 पशुओं का उपचार किया गया।