सरकार ने लगाया ई-सिगरेट पर बैन, अपराधी को होगी 3 साल की जेल

- in Featured, देश
सरकार

ई-सिगरेट पीना और बेचना दोनों ही संज्ञेय अपराध की श्रेणी में आ गया है, अपराध करने पर तीन साल की जेल या पांच लाख रुपये का जुर्माना या दोनों हो सकता है

केंद्रीय कैबिनेट ने ई-सिगरेट पर बैन से जुड़े अध्यादेश को बुधवार को अपनी मंजूरी दे दी। इसके साथ ही देश में ई-सिगरेट के प्रोडक्शन, मैन्यफैक्चरिंग, इम्पोर्ट/एक्सपोर्ट, ट्रांसपोर्ट, सेल, डिस्ट्रीब्यूसन, स्टोरेज और एडवरटाइजिंग पर प्रतिबंध लग गया है। ई-हुक्का को प्रतिबंधित कर दिया गया है।

ये भी पढ़े:बसपा सुप्रीमो मायावती ने की दलित युवक की मौत पर कड़ी निंदा,बोला…..

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि ई-सिगरेट लोगों और खासकर युवाओं के स्वास्थ्य के लिए खतरनाक है। इसलिए केंद्रीय कैबिनेट ने ई-सिगरेट और संबंधित उत्पादों को बैन करने का फैसला किया है। सीतारमण इस मुद्दे पर ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स की अगुवाई कर रही थीं।

ई-सिगरेट पीना और बेचना दोनों ही संज्ञेय अपराध की श्रेणी में आ गया है। पहली बार यह अपराध करने पर एक साल की जेल की सजा या एक लाख रुपये का जुर्माना या दोनों हो सकता है। आदतन अपराध करने पर तीन साल की जेल या पांच लाख रुपये का जुर्माना या दोनों हो सकता है।

ये भी पढ़े:दबंग बिल्डर के हौसले बुलंद, कवरेज करने आए पत्रकार को पीटा, जान से मारने की दी धमकी

सीतारमण ने कहा कि सिगरेट की लत को छुड़ाने के लिए पहले ई-सिगरेट को प्रोत्साहित किया गया था। लेकिन अब देश को युवाओं को ई-सिगरेट से जुड़े खतरों से बचाने के लिए यह फैसला किया गया है।सरकार

आपको बात दें कि यह 150 से ज्यादा फ्लेवर्स में मिलती है, ऐसे दिखाया जाता है जैसे इसके माध्यम से सिगरेट छोड़ने में आसानी होती है जबकि अध्ययन से खुलासा हुआ है कि इसके माध्यम से सिगरेट की आदत को बढ़ावा मिलता है।

बस 1 क्लिक पर जानें देश-दुनिया की ताजा-तरीन खबरें Download करें संस्कार न्यूज़ चैनल की Application नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें या फिर play store पे sanskarnews सर्च करें- लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज- https://fb.com/sanskarnewslko/
Loading...