KGMU ट्रामा सेंटर पर नशे में धुत दर्जन भर अवैध एम्बुलेंस कर्मियों ने पत्रकार को पीटा

Illegal Ambulance

KGMU ट्रामा सेंटर (KGMU Trauma Center) पर (Illegal Ambulance) अवैध एम्बुलेंस-कर्मियों की गुंडागर्दी, गाली-गलौज करने से मना करने पर दर्जन भर अवैध एम्बुलेंस-कर्मियों ने पत्रकार जुनैद खान को पीटा

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में गुंडागर्दी अपनी चरम सीमा पर है पुलिस की लाख कोशिशों के बावजूद दबंग लोग अपनी दबंगई से बाज नहीं आ रहे हैं। पुलिस को तो जैसे यह कुछ समझते ही नहीं, जब चाहा जिसको चाहा अपनी दबंगई के बल पर बीच रोड पर घेर के मारते हैं। आखिर क्या वजह है जो पुलिस की दहशत आज राजधानी के दबंगों में से निकल चुकी है। अवैध तरीके से काम करने वाले लोग अपनी जड़ें इतनी मजबूती से जमा चुके हैं कि यदि कोई उनके खिलाफ आवाज उठाने की कोशिश करता है तो उस आवाज उठाने वाले को ही दबा दिया जाता है।

ऐसे ही कुछ हालात थाना चौक में स्थित केजीएमयू के ट्रामा सेंटर (KGMU Trauma Center) के पास के बन चुके है जहां पर ट्रामा सेंटर के बाहर अवैध रूप से दर्जनों एंबुलेंस (Illegal Ambulance) खड़ी रहती हैं जिससे ट्रामा सेंटर आने वाले मरीजों को व उनके तीमारदारों को अपने वाहन लाने में असुविधा का सामना करना पड़ता है। ट्रामा सेंटर (KGMU Trauma Center) गेट के आसपास चाय आदि के ठेले बड़ी संख्या में खड़े रहते हैं जिससे कि जाम की स्थिति बनी रहती है।

अवैध एंबुलेंस खड़े होने से ट्रामा सेंटर आने वाले मरीजों को वाहन लाने में होती है असुविधा

पुलिस द्वारा भी एक आध बार इनको हटाने की करवाई की गई किन्तु पुलिस की ढील के चलते यह लोग फिर से यहां पर अपना कब्जा जमा लेते हैं वरना क्या हिम्मत है की कोई पुलिस के मना करने के बाद भी दुबारा सड़को पर कब्ज़ा कर ले। और आये रोज़ इन क़ब्ज़ा धारियों द्वारा व दबंग (Illegal Ambulance) अवैध एम्बुलेंस कर्मियों द्वारा लोगो के साथ मारपीट की घटनाएं अंजाम दी जाती हैं किन्तु ट्रामा सेंटर में अपने मरीज़ को लेकर आने वाले ज़्यादातर लोग परदेसी होते हैं जो कि किसी तरह की उलझन में पड़ना नही चाहते हैं इसलिए मामला रफा दफ़ा हो जाता है।

ताजा मामला भी कुछ ऐसा ही सामने आया है जिसमें शनिवार की रात केजीएमयू ट्रामा सेंटर (KGMU Trauma Center) में पत्रकार सैय्यद अलीम कादरी को ब्रेन हेमरेज के चलते भर्ती कराया गया था जिनसे मिलने के लिए कुछ पत्रकार ट्रामा सेंटर पहुंचे थे। यह पत्रकार ट्रामा के गेट पर खड़े थी कि तभी अत्यधिक नशे में धुत (Illegal Ambulance) अवैध एम्बुलेंस कर्मयो ने पत्रकारों पर हमला बोल दिया और उनके पास मौजूद 42 हज़ार रुपये लूट ले गए। इस हमले में कई पत्रकार घायल हो गए जिसके बाद पत्रकारों ने थाना चौक में आरोपीयो के खिलाफ तहरीर दे कर मुक़दमा दर्ज कराया है।

KGMU Trauma Center

ये भी पढ़े : अत्याधुनिक हथियारों से लैस होकर चलेगी अब उत्तर प्रदेश पुलिस

जानकारी के अनुसार ट्रामा सेंटर में भर्ती पत्रकार अलीम क़ादरी को देखने पहुँचे पत्रकारों से वहां मौजूद नशे में धुत (Illegal Ambulance) अवैध एम्बुलेंस कर्मियों ने गाली-गलौज शुरू कर दी, गाली देने से मना करने पर दबंग एम्बुलेंस कर्मियों ने पत्रकारों को खींचकर मारपीट शुरू कर दी साथ ही आसपास के चाय के ठेले वालों व अन्य एंबुलेंस कर्मियों को बुलाकर दर्जनों लोगों ने मिलकर पत्रकारों की पिटाई शुरू कर दी। एंबुलेंस-कर्मियों द्वारा किये गए इस हमले में पत्रकार जुनैद खान पठान गंभीर रूप से घायल हो गए और कई पत्रकारों को गंभीर रूप से चोटे आयी।

लेकिन देखने वाली बात यह थी की सुरक्षा के नाम पर ट्रामा सेंटर के गेट पर ही एक स्थाई पुलिस चौकी बनाई गई है उसके बावजूद दबंगो के हौसले इतने बुलंद थे।

घायल पत्रकार जुनैद खान पठान की हालत ज़्यादा बिगड़ने पर उनको बलरामपुर हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है जहाँ उनका इलाज जारी है। जुनैद खान की तहरीर पर पुलिस ने मुक़दमा दर्ज कर तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया है अन्य की तलाश जारी है।

Illegal Ambulance

अब देखने वाली बात यह है की ट्रामा सेंटर जैसी जगह के बाहर अवैध रूप से सड़कों पर कब्जा कर ठेले लगाने वाले व अवैध रूप से चलने वाली एंबुलेंस कर्मियों की इस गुंडई को पुलिस कैसे रोकती है और जनता को इनकी दबंगई से कैसे निजात दिलाती है।

वीडियो देखने के लिए यहाँ क्लिक करें-

बस 1 क्लिक पर जानें देश-दुनिया की ताजा-तरीन खबरें Download करें संस्कार न्यूज़ चैनल की Application नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें या फिर play store पे sanskarnews सर्च करें- लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज- https://fb.com/sanskarnewslko/
Loading...