हाईटेंशन तार की चपेट में आने से युवक झुलसा, नाराज लोगों ने कुल्हाङी से काटा तार

बीते देर शाम तक आपूर्ति बहाल नहीं हो सकी

गोरखपुर। गोला कस्बे के वार्ड नंबर 6 में  छत के ऊपर से जा रहे हाइटेंशन तार की चपेट में आने से एक किशोर झुलस गया। इससे नाराज लोगों ने कुल्हाड़ी से तार को ही काट डाला। जिससे कस्बे की विद्युत आपूर्ति ठप हो गई। कर्मचारी तार जोड़कर आपूर्ति बहाल करने पहुंचे तो लोगों ने तार जोड़ने से रोक दिया। बीते देर शाम तक आपूर्ति बहाल नहीं हो सकी।

जेई शिवशंकर  पुलिस बल के साथ तार जोड़वाने पहुंचे। इस पर नगर वासी आक्रोशित हो उठे। कस्बे के कुछ प्रतिष्ठित लोगों के मध्यस्थता के बाद वह शांत हुए। जेई ने छत से गुजर रहे हाईटेंशन तार पर प्लास्टिक पाइन लगाने का आश्वासन देने के साथ एक माह के अंदर स्टीमेट भेजकर तीन माह के अंदर हाईटेंशन तार को हटाकर सड़क मार्ग से लाने जाने की बात कही। इसके बाद नगर वासी आपूर्ति बहाल करने के लिए राजी हुए। हालांकि देर शाम तक आपूर्ति बहाल नहीं हो सकी थी।

हाईटेंशन तार की चपेट में आने से गोला कस्बा के वार्ड नंबर 6 निवासी हुसैन का 12 वर्षीय बेटा सुहेल गंभीर रूप से झुलस गया था। उसे इलाज के लिए सीएचसी गोला पर लाया गया। हालत गंभीर देख डॉक्टर ने जिला अस्पताल रेफर कर दिया। बालक का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है। इस घटना से नाराज नगर वासियों ने हाजिमलिंग बाबा के स्थान से गौशाला मोहल्ला तक हाईटेंशन तार को काट डाला। जिससे पूरे कस्बे की आपूर्ति ठप हो गई।

जेई ने तीन नामजद और आधा दर्जन लोगों के खिलाफ दिया तहरीर

हाईटेंशन तार को काटने के बाद आपूर्ति बहाल नहीं करने पर जेई शिवशंकर ने पुलिस को तीन नामजद और आधा दर्जन अज्ञात के खिलाफ तहरीर दिया है। तहरीर मिलने के बाद पुलिस मामले की जांच शुरू कर दी है।

जेई ने तहरीर के माध्यम से बताया है कि गोला कस्बे के वार्ड नंबर 6 में नाराज लोगों ने 11 हजार वोल्ट के हाईटेंशन तोर को कुल्हाड़ी से कई टुकड़ों में काट डाला। इसके बाद वार्ड एक और तीन में कई जगह सीमेंट के खम्भे को क्षतिग्रस्त कर दिया। जेई ने खटिकना टोला निवासी रामचन्द्र, विश्वनाथ, लालचंद समेत आधा दर्जन लोगों के खिलाफ सरकारी काम में बाधा डालने, सरकारी सम्पत्ति को क्षतिग्रस्त करने का आरोप लगाया है। पुलिस मामले की जांच शुरू कर दी है।