किसान पर गिरा हाईटेंसन तार, विद्युत विभाग की लापरवाही से हुआ हादसा, एक की मौत

छत के ऊपर से गुजरी जर्जर हाईटेंसन तार पिछले एक महीने से ढीली पड़ी थी, किसानो ने बिजली विभाग के अधिकारियो पर तार को सही करने के लिए रिश्वत मांगने का लगाया आरोप

कौशाम्बी। कौशाम्बी जिले में विधुत विभाग की लापरवाही के चलते बड़ा हादसा हुआ है। दरवाजे पर सो रहे दो किसानों पर हाईटेंसन तार गिरने से एक किसान की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि दूसरा किसान गंभीर रूप से झुलस गया है।

मामला जिले के कोखराज थाना क्षेत्र के सैंता गांव का है जहां गरम सिंह और हंसराज अपने घर के दरवाजे पर सो रहे थे। इस दौरान छत के ऊपर से गुजरी जर्जर हाईटेंसन तार सुबह के वक़्त किसानों के ऊपर जा गिरा। हादसे में मौके पर किसान गरम सिंह की मौत हो गई, जबकि हंसराज गंभीर रूप से झुलस गया।झुलसे हुए किसान को इलाज के लिए एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

घटना के बाद से आक्रोशित परिजनों ने मूरतगंज विधुत उपकेंद्र के सामने मंझनपुर जिला मुख्यालय जाने वाले मार्ग पर जाम लगा दिया। परिवार वालो का आरोप है कि छत के ऊपर से गुजरी जर्जर हाईटेंसन तार पिछले एक माह से ढीली पड़ी थी। जब इस बाबत विधुत विभाग के अधिकारियों से तार सही कराये जाने के लिए शिकायत की गई तो विधुत अधिकारीयो ने ढ़ीली तार को सही कराने के नाम पर रिश्वत की मांग की। रिश्वत न देने पर विधुत विभाग ने ढ़ीली तार को टाइट नही कराया जिससे हादसा हुआ है।

मौके पर पहुंचे सर्किल अफसर अंशुमान मिश्रा के आश्वासन के बाद परिजनों ने जाम हटा दिया। पुलिस ने पीड़ित परिवार के तहरीर के आधार पर मामला दर्ज कर कार्यवाही शुरू कर दी। इस दौरान इलाहाबाद से चित्रकूट जाने वाले मार्ग की यातायात दो घंटे तक बाधित रहा।