बिना बच्चो के ही मन गया स्वतंत्रता दिवस (Independence day)

पवित्रा डिग्री कालेज में बिना एक भी बच्चे के झंडा रोहण कर मना लिया गया स्वतंत्रता दिवस (Independence day)

गोरखपुर। बिना छात्र छात्राओं के फहर गया तिरंगा, बिना छात्र छात्राओ के मन गया डिग्री कालेज में स्वतंत्रता दिवस (Independence day), जी हां जहा आज सभी स्कूलों में अभिभावको के मौजुदगी में बच्चे झंडा रोहण के कार्यक्रम को हर्षो उल्लास के साथ मनाते है, वही पवित्रा डिग्री कालेज में बिना एक भी बच्चे के झंडा रोहण कर इस पर्व को मना लिया गया।

आज जहां पूरा देश स्वतंत्रता दिवस (Independence day) मना रहा है और 73 में स्वतंत्रता दिवस (Independence day) के जश्न में डूबा है, जहां एक तरफ पुलिस व प्रशासनिक अमला सभी अपने अपने भवनों पर अपने अपने तरीके से इस पर्व को मना रहे हैं, वहीं स्कूलों में भी स्कूली बच्चों के साथ टीचर्स अभिभावक इस पर्व को मना कर ध्वजारोहण करते नजर आते हैं।

लेकिन गोरखपुर में एक ऐसा डिग्री कॉलेज है, जहां आलम यह है, कि बिना एक भी छात्र छात्राओं के झंडारोहण भी हो गया और स्वतंत्रता दिवस (Independence day) भी मना लिया गया।

ये भी पढ़े: सलाम लखनऊ आईना ए सकाफत सोसाइटी ने ग़रीब बच्चों के साथ मनाया जशन ए आज़ादी

Independence day

जब इस बारे में वहां के प्राचार्य से पूछा गया, की एक भी छात्र या छात्रा यहां नजर नहीं आ रहे हैं, और बिना छात्र-छात्राओं के आपने झंडारोहण कर लिया और इतना बड़ा पर्व देश की आजादी से जुड़ा हुआ स्वतंत्रता दिवस भी बना लिया, तो इस पर वह भड़कते हुए बोली हमें पता नहीं कि यहां कितने बच्चे हैं, इतनी में गिनती नहीं की हूं, और कोई बच्चे आए नहीं तो जबरदस्ती उन्हें कैसे बुलाया जाएगा।

क्योंकि रक्षाबंधन का भी त्यौहार है, इस वजह से हो सकता है, वह नहीं आए, यह शब्द किसी टीचर या किसी और के नहीं बल्कि पवित्रा डिग्री कॉलेज के प्रचार्या के हैं, जब प्रचार्या ही इस तरह से बोलोगे तो बाकी के या उस स्कूल में पठन-पाठन का कार्य किस तरह से हो रहा होगा, उनके इस वक्तव्य से अंदाजा लगाया जा सकता है, इस डिग्री कॉलेज में बच्चो के होने को मानक की बात जरे तो तकरीबन 600 से ऊपर बच्चे होने चाहिए थे, लेकिन यहां बच्चो की संख्या उम्मीद से भी कम है । इस पर जब उनसे पूछा गया तो वो बाद में बात करते हुए हट गई।

ये भी पढ़े: Lucknow: समोसे में छिपकली निकलने से हंगामा, दुकानदार ने बताया फ्राई मिर्च

यानी इनके बातों से ये साफ जाहिर हो रहा है, कि इस डिग्री कालेज में प्रबंधक और प्रचार्या के बीच तानाशाही का रवैया चल रहा है, जिसका खामियाजा पठन पाठन के कार्यो पर पड़ रहा है, अब ऐसे में जल्द ही इन तानाशाही जंग पर लगाम नही लगा तो आज जो बच्चे गिनतियों में आते है, वो भी नही आएंगे ।

देखे वीडियो-

बस 1 क्लिक पर जानें देश-दुनिया की ताजा-तरीन खबरें Download करें संस्कार न्यूज़ चैनल की Application नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें या फिर play store पे sanskarnews सर्च करें- लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज- https://fb.com/sanskarnewslko/
Loading...