सर्व संस्कारित अभियान से ही होगा भारत सशक्त – समाजसेवी कृष्णा सिंह

mahila jeevan pragati sansthaan

राजधानी की चर्चित समाजसेवी संस्था महिला जीवन प्रगति संस्थान (mahila jeevan pragati sansthaan) ने अपने लखनऊ कार्यलय का किया उद्धघाटन

लखनऊ। महिला सशक्तिकरण एवं सर्व-संस्कारित अभियान (sarv sanskarit abhiyan), बच्चो की मुफ्त पढ़ाई, कॉपी किताबे सामाजिक, सांस्कृतिक, साहित्यिक तथा शैक्षिक सेवा पिछले कई वर्षों से कर रही राजधानी की चर्चित समाजसेवी संस्था महिला जीवन प्रगति संस्थान (mahila jeevan pragati sansthaan) ने अपने लखनऊ कार्यलय का उद्धघाटन रुद्राभिषेक एवं हवन करके किया गया।

संस्था के अध्यक्ष वरिष्ठ समाज सेवी कृष्णा सिंह ने उद्धघाटन में सम्मिलित हुए गणमान्य अथितियों से महिला जीवन प्रगति संस्थान द्वारा किये गए कार्यो के संबंध में अपने वक्तव्य में कहा कि महिला जीवन प्रगति संस्थान (mahila jeevan pragati sansthaan) पिछले कई वर्षों से महिलाओं को जागरूक करने के लिए संस्कारो के साथ अपने बच्चो को शिक्षा दे ताकि बच्चो में ज्ञान के साथ साथ अपने बड़ो का आदर करना, गुरुओ का आदर करना, अपनी परम्पराओ, संस्कृति, साहित्य को के महत्व को समझ सके।

वरिष्ठ समाजसेवी कृष्णा सिंह ने ये भी बताया कि महिला जीवन प्रगति संस्थान (mahila jeevan pragati sansthaan) गरीब बच्चो की पढ़ाई के लिए उनकी फीस, किताबे, कॉपियां, स्कूल बैग एवं पेंसिल बॉक्स मुफ्त में देती है तथा मलीन बस्तियों, छोटे छोटे गाँव और कस्बे, होटलो में ग्लास धोने वाले बच्चे, कूड़ा बीनने वाले बच्चे जो कभी स्कूल नही गए उनको शिक्षित करने और उनके भविष्य को उज्ज्वल बनाने के लिए संस्थान द्वारा कई टीचर नियुक्त किये गए है तथा संस्था से जुड़े पदाधिकारी और सदस्य साथ मिलकर उन बच्चो को अलग अलग स्थानों पर उन्हें इकठ्ठा करके शिक्षित करने का प्रयास पिछले कई वर्षों से कर रही है।

महिलाओं को स्वयं रोजगार से जोड़ता है महिला जीवन प्रगति संस्थान

mahila jeevan pragati sansthaan

उन्होंने कहा कि महिला जीवन प्रगति संस्थान (mahila jeevan pragati sansthaan) महिलाओं के उत्थान और उन्हें शशक्त बनाने के लिए अलग अलग कार्यक्रम करती रहती है। महिलाओं पर होने वाले अत्याचारों के ख़िलाफ़ संस्थान उनकी आवाज़ बनकर उन्हें इंसाफ दिलाने का पूरा प्रयास करता है। संस्थान सभी अभिवावकों महिला एवं पुरूष दोनों से ये आग्रह करता है कि बच्चो को संस्कारिक शिक्षा ज़रूर दे ताकि बच्चे सभ्य बने क्योकि शिक्षा का मतलब सिर्फ ऊँचे पदों पर रहकर पैसा कमाना नही हैं बल्कि अपने साथ साथ दूसरो को भी शिक्षित करना अनिवार्य है।

ये भी पढ़े – नवमी के दिन सीएम का कन्या पूजन व अनोखा अंदाज

उन्होंने कहा कि अगर पैसा सुख दे सकता तो संसार का हर धनी व्यक्ति सुखी होता परंतु ऐसा नही है क्योंकि पैसा खाना तो खरीद सकता है लेकिन भूख नही, पैसा आरामदेह आलीशान बिस्तर तो खरीद सकता है मगर सुख की नींद नही, पैसा गवाहों सुबूतों और वकील को खरीद सकता है मगर न्याय को नही।

अपने वक्तव्य में आगे महिला जीवन प्रगति संस्थान (mahila jeevan pragati sansthaan) के कार्यो की जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि संस्थान द्वारा महिलाओं को शिक्षित करना, उन्हें सिलाई कढ़ाई सिखाना, सेल्फ डिफेंस सिखाना, कम्प्यूटर की शिक्षा और रोजगार से जुड़ी हर विधा को सिखाना ताकि महिलाएं अपने बल पर अपना जीवन आज़ादी से व्यततीत करे।

महिला जीवन प्रगति संस्थान (mahila jeevan pragati sansthaan) समय समय पर अलग स्थानों पर इस तरह के कार्यक्रम करती रहती है क्योकि समाज और इंसानियत की सेवा ही सच्चा धर्म है। इस मौके पर लखनऊ शहर के साथ साथ, फतेहपुर, हमीरपुर, उन्नाव, कानपुर व अन्य जनपदों से संस्थान से जुड़े सामाजिक कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

देखे वीडियो –

बस 1 क्लिक पर जानें देश-दुनिया की ताजा-तरीन खबरें Download करें संस्कार न्यूज़ चैनल की Application नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें या फिर play store पे sanskarnews सर्च करें- लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज- https://fb.com/sanskarnewslko/
Loading...