लखनऊ:दामाद ने 4 लाख रुपये उधारी नहीं दी तो,ससुर ने बेटी संग मिलकर की हत्या

लखनऊ

लखनऊ:लोहे की रॉड से ससुर ने सिर पर किया वार, खून से लथपथ दामाद की हुई मौत

लखनऊ के ठाकुरगंज निवासी कलाम अहमद की हत्या उसके ससुर नाजिमउद्दीन ने अपनी बेटी अफसरी खातून उर्फ गुड़िया के साथ मिलकर की थी। पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल लोहे की रॉड व संदूक भी बरामद कर लिया है। साथ ही कमाल अहमद के ससुर व उसकी पत्नी को जेल भेज दिया गया है।

ये भी पढ़े:बीजेपी नेता ने दीपिका पर दिया,पोर्न फिल्म में अभिनय करने का विवादित बयान

एएसपी पश्चिम विकास चंद्र त्रिपाठी के मुताबिक, कलाम के परिवारीजनों ने निजामुद्दीन के अलावा उसकी पत्नी अफसरी खातून पर भी हत्या का आरोप लगाया था। कलाम के लापता होने पर परिवारीजनों ने ठाकुरगंज थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई थी।

लखनऊ

बस्ती में उसकी लाश के साथ ससुर निजामुद्दीन के पकड़े जाने के बाद हत्याकांड का पर्दाफाश हुआ। निजामुद्दीन ने पूछताछ में कुबूला कि वह बस्ती में सेतु निगम में इंजीनियर के पद पर तैनात था। वर्ष 2011 में रिटायरमेंट के बाद वह लखनऊ आकर रहने लगा।

विज्ञापन-
घर बैठे फ्रेश नॉनवेज मंगवाए वो भी मार्केट से कम दाम पर, अभी डाउनलोड करे “Lucknow Meat Wala” एंड्राइड ऐप

सेवानिवृत्ति पर मिली रकम में से चार लाख रुपये दामाद ने उधार लिए थे। वह रुपया मांगते तो दामाद टाल देता। तीन जनवरी को वह दामाद के घर गए थे, जहां रुपयों की बात को लेकर हुए झगड़े के दौरान उन्होंने लोहे की रॉड से उसके सिर पर वार कर दिया। खून से लथपथ दामाद की मौत हो गई।