लग्जरी गाड़ियों से चलते हुए पुलिस को गाली देने वाले मनबढ़ गिरफ्तार

ड्यूटी कर बगैर हेलमेट घर जा रहे पुलिसवालों को धमकाने और वीडियो वायरल करने वाले दो बदमाश गिरफ्तार

गोरखपुर । कहते है जुर्म की राह भले ही लंबी हो लेकिन उसका अंत निश्चित है, शायद तभी तो इन मनबढ़ों के गिरेबान तक खाकी का शिकंजा कस गया, ये वही मनबढ़ है, जिन्होंने तकरीबन 12 दिन पहले बाइक से डियूटी कर घर जा रहे पुलिस वालों को भद्दी भद्दी गालियां दी थी, और आज ये पुलिस के शिकंजे में है।

ड्यूटी कर बगैर हेलमेट घर जा रहे पुलिसवालों को धमकाने और वीडियो वायरल करने वाले दो बदमाश गिरफ्तार, सीएम सिटी में दो होमगार्ड्स के जवान 12 दिन पहले गोरखनाथ मंदिर से देर रात ड्यूटी कर बाइक से बगैर हेलमेट घर लौट रहे थे, उसी दौरान होमगार्ड्स के जवानों को चलती कार सवार शराब के नशे में धुत पांच युवक गाली देकर धमकाने के साथ उनका वीडियो बनाने लगे।

उसके बाद युवकों ने उस वीडियो को वायरल दिया, वीडियो में वे खुद को एक चैनल (आज तक) का पत्रकार भी बता रहे थे, फर्जी तौर पर खुद को पत्रकार बताने वाले दो युवकों को 12 दिन बाद पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया, वहीं उनके तीन साथियों की सरगर्मी से तलाश की जा रही है।

पुलिस की माने तो होमगार्ड्स के दो जवान गोरखपुर के गोरखनाथ इलाके के गोरखनाथ मंदिर से देर 7/8 सितंबर की रात 12 बजे के आसपास ड्यूटी बगैर हेलमेट घर लौट रहे थे, होमगार्ड्स के दो जवानों को धर्मशाला से रेलवे स्‍टेशन रोड के बीच में पेट्रोलपंप के पास काले रंग की लग्‍जरी कार सवार नशे में धुत पांच युवकों ने ओवरटेक कर गालियां देना शुरू कर दिया, इन युवकों ने खुद को एक चैनल का पत्रकार बताते हुए हेलमेट नहीं पहनने पर खुद के खिलाफ कार्रवाई करने पर धमकी दी, और उसके बाद उन्‍हें हेलमेट नहीं पहनने पर गालियां देने लगे, इस घटना के बाद होमगार्ड्स के जवान शर्मिंदा होकर चुपचाप घर चले गए ।

कार सवार युवकों ने वीडियो बनाने के बाद उसे वायरल भी कर दिया, उसके बाद मामला पुलिस के आलाधिकारियों के संज्ञान में आया, दोनों होमगार्ड्स की तहरीर पर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 341, 353, 504, 506, 469, 7 सीएलए एक्ट और 66 आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया, गोरखपुर पुलिस और क्राइम ब्रांच की टीम सीसीटीवी फुटेज और सर्विलांस के जरिए युवकों की तलाश में जुट गई, 12 दिन बाद पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज और सर्विलांस के माध्‍यम से कार सवार दो युवकों को गिरफ्तार कर लिया ।

पुलिस ने बताया कि यूपी सरकार, पुलिस और पत्रकारों की छवि धूमिल करने के मामले को पुलिस ने गंभीरता से लिया, और उनकी तलाश में जुट गई, पुलिस को सूचना मिली कि घटना में शामिल दो बदमाश रामनगर चौराहा पर मौजूद हैं, पुलिस ने घेराबंदी कर काले रंग की डस्‍टर कार सवार दोनों बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया, कड़ाई से पूछताछ में दोनों ने अपना अपराध स्‍वीकार कर लिया, आरोपियों की पहचान गोरखनाथ इलाके के मिर्जापुर पचपेड़वा रामनगर के रहने वाले रवि सोनकर और तनमय श्रीवास्‍तव के रूप में हुई है, मुख्‍य आरोपी पूर्व में भी पास्‍को एक्‍ट का आरोपी रहा है, दोनों ने स्‍वीकार किया कि उस दिन वे अपने साथी मुख्‍य आरोपी श्‍याम साहनी उर्फ छोटू, आशीष साहनी उर्फ गौतम और अफजल उर्फ कक्‍कू के साथ शराब पीकर नशे की हालत में आइसक्रीम खाने रेलवे स्‍टेशन जा रहे थे।

धर्मशाला के पास एक मोटरसाइकिल पर सवार दो वर्दीधारी सड़क पर जाते हुए दिखाई दिए, इन्‍हें देखते ही श्याम साहनी और आशीष साहनी उनको गाली देते हुए अपने आपको प्रेस का बताते हुए एक राजनैतिक पार्टी का नारा लगवाने लगे, उन लोगों ने उसका वीडियो बना लिया, उन लोगों ने सोच समझकर प्लानिंग के तहत उस वीडियो को सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया, कुछ दिन पहले उन्‍हें पता चला कि इस प्रकरण में क्राईम ब्रांच उनकी तलाश कर रही है, इसलिए वे आज नेपाल भागने की फिराक में थे, लेकिन, उसके पहले ही पकड़े गए ।

पुलिसवालों के साथ गाली-गलौज कर उनका वीडियो वायरल करने के साथ खुद को फर्जी तौर पर पत्रकार बताने वाले दो युवक जहां पुलिस के हत्‍थे चढ़ गए हैं. तो वहीं पुलिस तीन अन्‍य आरोपियों की तलाश कर रही है।

ऐसे में सवाल ये पैदा होता है, कि सरकार खाकीधारी और पत्रकारों की छवि धूमिल करने का अधिकार ऐसे मनबढ़ युवकों को आखिर किसने दिया है, फिलहाल अब ये मनबढ़ अपने इस जुर्म की सजा काटने कर लिए सलाखों के पीछे पहुच गए है ।

बस 1 क्लिक पर जानें देश-दुनिया की ताजा-तरीन खबरें Download करें संस्कार न्यूज़ चैनल की Application नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें या फिर play store पे sanskarnews सर्च करें- लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज- https://fb.com/sanskarnewslko/
Loading...