8 फरवरी को होगा विशाल रोजगार मेला का आयोजन, 80 कंपनियां होंगी शामिल

उत्तर प्रदेश के 2500 बेरोजगार अभ्यर्थियों को मिलेगा नौकरी पाने का अवसर

गोरख । गोलघर स्थित एक मॉल में मेरठ इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी द्वारा प्रदेश स्तर के विशाल रोजगार मेले के विषय में प्रेस वार्ता का आयोजन किया गया। इस दौरान मेरठ इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के वाइस चेयरमैन पुनीत अग्रवाल ने बताया कि उत्तर प्रदेश के बेरोजगार अभ्यर्थियों को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के लिए सेवायोजन विभाग उत्तर प्रदेश, श्रम एवं रोजगार मंत्रालय, उत्तर प्रदेश सरकार, नेशनल कैरियर सर्विस, और दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे के समीप मेरठ इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, एनसीआर मेरठ के संयुक्त प्रयासों से प्रदेश स्तर का विशाल रोजगार मेला 8 फरवरी 2020 को आयोजित किया जाएगा।

रोजगार मेले में 80 से अधिक नेशनल एवं मल्टीनेशनल नामचीन कंपनियां शामिल होंगी। रोजगार मेले में शामिल होने वाले अभ्यर्थियों हेतु लगभग 2500 से अधिक रिक्तियां हैं। जिसमें हाई स्कूल, इंटर, सभी डिप्लोमा, आईटीआई,
बीटेक, स्नातक, परास्नातक और सभी ग्रेजुएट अभ्यार्थी भाग ले सकेंगे। रोजगार मेला अभ्यार्थियों के लिए पूर्णता निशुल्क है।

बेरोजगार अभ्यार्थी बिना किसी शुल्क के रोजगार मेले में भाग ले सकते हैं। गोरखपुर जिले में
सेवायोजन पोर्टल पर पंजीकृत छात्र रोजगार मेले हेतु ऑनलाइन आवेदन करा सकते हैं और जो छात्र सेवायोजन
पोर्टल पर पंजीकृत नहीं है, वे छात्र सीधे www.Twithreerut.ac.in वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर
सकते हैं। या फिर सीधे 8 फरवरी 2020 को मेरठ इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में पहुंचकर भाग ले सकते हैं।

अभ्यर्थियों का चयन करने के लिए कम्पनियों के एच.आर. अधिकारियों के अतिरिक्त तकनीकी अधिकारी भी
रोजगार मेले में उपस्थित रहेगें। कंपनियों के प्रतिनिधि लिखित परीक्षा एवं साक्षात्कार द्वारा छात्रों का चयन
करेंगे। चयनित छात्रों को रोजगार मेले में ही ऑफर लेटर प्रदान किए जाएंगे। अभ्यर्थियों को 5 रिज्यूमे, 5 पासपोर्ट साईज फोटो, सेवायोजन पंजीयन कार्ड,कॉलेज आईडी और मूल प्रमाण पत्र फोटो कापी सहित लाने
होगें। प्रेस प्रवक्ता अजय चौधरी ने बताया मेरठ एक्सप्रेसवे के समीप स्थित मेरठ इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी,
एनसीआर एनएच-58 द्वारा हर साल रोजगार मेले आयोजित किए जाते हैं, जिसमें पिछले साल 2019 में
2000 से अधिक बेरोजगारों को रोजगार दिया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सपना है कि भारत विश्व की
कौशल राजधानी बने। उस दिशा में किया गया यह छोटा सा प्रयास है। युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराना
पीएम का सपना है। प्रेस कॉन्फ्रेंस में एमआईटी के वाइस चेयरमैन पुनीत अग्रवाल, प्रोफेसर गजेंद्र सिंह, प्रेस प्रवक्ता अजय चौधरी ‘मौजूद रहे।