जिला अस्पताल की बड़ी लापरवाही, परिजनों का आरोप जिंदा युवक को भेजा मर्चरी

रोडवेज बस से बाइक की भिड़ंत में 18 साल के युवक को बुरी तरह से चोट लग गई, जिससे वो बुरी तरह से घायल हो गया, और उसे जिला अस्पताल लाया गया ।

गोरखपुर । परिजनों का गंभीर आरोप, जिला अस्पताल की बड़ी लापरवाही, जिंदा व्यक्ति को भेज दिया मर्चरी, लोगो के हंगामे के बाद हरकत में आया जिला अस्पताल, जी हां गोरखपुर के बेलीपार में हुए रोडवेज बस से बाइक की भिड़ंत में 18 साल के युवक को बुरी तरह से चोट लग गई, जिससे वो बुरी तरह से घायल हो गया, और उसे जिला अपताल लाया गया ।

गोरखपुर के बेलीपार थाना क्षेत्र के गोरखपुर वाराणसी मार्ग पर सेवई यूनियन बैंक के पास सरकारी रोडवेज की बस ने युवक को टक्कर मारी थी, जिसके बाद उसे जिला अस्पताल लाया गया, सूत्रों की माने तो जिला अस्पताल के इमरजेंसी के डॉक्टरों ने उसे देखते ही मृत घोषित कर दिया, और उसे बिना पट्टी बांधे मर्चरी भेजवा दिया, कुछ देर बाद वहां मौजूद लोगों ने जब खून का रिसाव देखा और हाथो में कंपन देखा तो वो हँगामा करने लगे, हंगामा देख अस्पताल के कर्मचारी और डॉक्टर आनन फानन में उसे फिर से मर्चरी से से निकाल कर इमरजेंसी ले गए, और उसका इलाज शुरू कर दिया।

फिलहाल इस लापरवाही ने जिला अस्पताल पर कई सवाल खड़े कर दिए है, और बेहतर इलाज के दावों की पोल भी खोल कर रख दी है ।

वही जिला अस्पताल के एसआईसी राज कुमार गुप्ता नेे  इस बात को एक सिरे से खारिज कर दिया, औऱ कहा कि ये गलत है सुबह जिन डॉक्टर नेे देखा था, उन्होंने भी इसे मृत्त घोषित किया था, और जब परिजनों ने हंगामा शुरू किया उसके बाद जिला अस्पताल के कर्मचारी युवक को मर्चरी हाउस लेकर इमरजेंसी गए और दूसरे डॉक्टर ने जिनका इमरजेंसी में दूसरा शिफ्ट था उन्होंने भी जब चेक किया, तो उन्होंने बताया यह मर चुका है और उसमें कोई भी जान बाकी नहीं है, इसके बाद परिजन उसको लेकर के कहीं चले गए ।

जिला असप्ताल में हुुुये हंगामे केेेे बाद आज हड़कंप मच गया इसकेे बाद मृतक को फिर से इमरजेंसी लाया गया, जहां दुबारा डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया जिसके बाद परिजन उसे लेकर चले गए यह कहना है गोरखपुर के एसआईसी डॉ राजकुमार गुप्त का,वहीं मृतक आर्यन (18 वर्ष)की माँ ने आरोप लगाया कि जिला अस्पताल के डॉक्टरों की लापरवाही से मेरा बेटा मर गया।मेरा बेटा 3 से 4 घण्टा मर्चरी में जिंदा था अगर डॉक्टर लापरवाही न करते तो मेरा बेटा जिंदा होता।

बस 1 क्लिक पर जानें देश-दुनिया की ताजा-तरीन खबरें Download करें संस्कार न्यूज़ चैनल की Application नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें या फिर play store पे sanskarnews सर्च करें- लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज- https://fb.com/sanskarnewslko/
Loading...