दरगाह से हुआ माह-ए-मुहर्रम के चांद का ऐलान, 10 सितंबर को यौमे आशूरा

माह-ए-मुहर्रम का चांद देखा गया है। 1 सितंबर से नया इस्लामी साल शुरु हो गया है : मुफ्ती अख्तर हुसैन (मुफ्ती-ए-गोरखपुर)

गोरखपुर । नार्मल स्थित दरगाह हजरत मुबारक खां शहीद अलैहिर्रहमां की चांद कमेटी ने शनिवार को माह-ए-मुहर्रम का चांद देखे जाने की घोषणा कर दी। मुफ्ती अख्तर हुसैन (मुफ्ती-ए-गोरखपुर) ने बताया कि माह-ए-मुहर्रम का चांद देखा गया है। 1 सितंबर से नया इस्लामी साल शुरु हो गया है। इस्लामी कैलेंडर के मुताबिक 1441 हिज़री का आगाज़ हो गया है। दसवीं मुहर्रम यानी यौमे आशूरा 10 सितंबर को है। उन्होंने सभी के लिए दुआ किया है कि नया साल सभी के जिंदगी में खैर और बरकत लाए।

इस्लामी कैलेंडर के मुताबिक 1441 हिज़री का आगाज़ हो गया है

उन्होंने मुसलमानों से गुजारिश किया है कि हजरत सैयदना इमाम हुसैन व शोहदा-ए-कर्बला के नाम से कुरआन ख्वानी, फातिहा ख्वानी, इसाले सवाब करें। गरीबों व फकीरों की हाजत पूरी करें, उनको खिलाना-पिलाना सवाब है।

इस मौके पर मुफ्ती मो. अजहर शम्सी (नायब काजी), मौलाना मकसूद आलम मिस्बाही, कारी शराफत हुसैन कादरी, मौलाना मो. कैसर रज़ा अमजदी, मौलाना रियाजुद्दीन कादरी, मनोव्वर अहमद सहित तमाम उलेमा मौजूद रहे।

बस 1 क्लिक पर जानें देश-दुनिया की ताजा-तरीन खबरें Download करें संस्कार न्यूज़ चैनल की Application नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें या फिर play store पे sanskarnews सर्च करें- लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज- https://fb.com/sanskarnewslko/
Loading...