यूपी में अब २२ लाख से अधिक परिवारों को मिलेगी कैशलेस इलाज (Cashless Treatment) की सुविधा

cashless treatment

प्रदेश में मिल रही २२ लाख से अधिक परिवारों को कैशलेस इलाज की सुविधा करे आवेदन इसके लिए जिलाधिकारियों को स्टेट हेल्थ कार्ड (Health Card) बनाने के निर्देश दिए गए हैं।

Lucknow। स्वास्थ्य विभाग अब दे रहा है, राज्य के कर्मचारियों और सेवानिवृत कर्मचारियों और उनके आश्रितों को कैशलेस इलाज (Cashless Treatment) की सुविधा । इस योजना के अंतर्गत सभी जिलाधिकारियों और सीएमओ को शुक्रवार को स्टेट हेल्थ कार्ड (Health Card) बनाने के लिए आवश्यक दिशा -निर्देश दिए गए हैं।इसके लिए हर जिलों में हर सरकारी विभाग में एक-दो कर्मचारियों को मास्टर प्रशिक्षक के रूप में प्रशिक्षण दिया जाएगा।

क्या है कैशलेस सुविधा (Cashless Treatment)

इस योजना के अंतर्गत राज्य के कर्मचारियों और सेवानिवृत कर्मचारियों और उनके आश्रितों को मिलेगी इलाज कराने में बड़ी राहत, अब वो अपना इलाज बड़ी ही आसानी से करवा सकेंगे। नियम के अंतर्गत कर्मचारी और उनके परिवार दोनों के हेल्थ कार्ड बनाये जायेंगे। सरकारी अस्पताल और प्राइवेट अस्पताल ये सुविधा प्रदान करता है इसके अंतर्गत इलाज के दौरान पैसा देने की जगह कार्ड से कैशलेस इलाज (Cashless Treatment) होगा। अब सरकार इसके लिए हेल्थ कार्ड (Health Card) बनवा रही है इसके तहत सभी सरकारी चिकित्सा संस्थानों में कर्मचारियों और सेवानिवृत कर्मचारियों तथा उनके परिवारों के इलाज में खर्च की जाने वाली राशि की कोई सीमा नहीं होगी लेकिन प्राइवेट चिकित्सा संस्थानों में पांच लाख रुपए तक का इलाज करा सकेंगे।

ये भी पढ़े :शिवलिंग में छुपे विज्ञान का सार है किताब ”गर्भ गाथा”, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने किया विमोचन

राज्य में प्रशिक्षण देने की तैयारी

इस कार्य में कोषाधिकारी कार्यालय के कर्मचारियों को भी प्रशिक्षण मिलेगा। हर जिले में नोडल अधिकारी बनाये जायेगे। योजना की नोडल स्टेट हेल्थ एजेंसी को मुख्य कार्यपालक अधिकारी संगीता सिंह ने सभी कर्मचारियों को पत्र के माध्यम से सन्देश भेजा है। इसमें बताया गया है कि स्टेट हेल्थ कार्ड (Health Card) बनाने के लिए योजना की वेबसाइट htt/sects.up.gov.in की तैयारी कर ली गयी है। इस माध्यम से पोर्टल पर एप्लाई फॉर स्टेट हेल्थ कार्ड बटन पर क्लिक करके कार्ड के लिए आवेदन कर सकते है। योजना में ऑफलाइन आवेदन की कोई व्यवस्था नहीं है।


सरकारी कर्मचारी के ऑनलाइन आवेदन का सत्यापन संबंधित आहरण वितरण अधिकारी तथा सेवानिवृत कर्मचारी के आवेदन का सत्यापन संबंधित कोषाधिकारी के पास किया जायेगा । सत्यापन और केवाईसी के जरिए स्टेट हेल्थ कार्ड डाउनलोड भी हो सकेगा।

राज्य-कर्मचारी,सेवानिवृत कर्मचारी के आवेदन करते समय लगने वाले डाक्यूमेंट्स

  • इसके अंतर्गतराज्य-कर्मचारी,सेवानिवृत कर्मचारी से संबंधित डीडीओ/टीओ कोड एवं वित्त विभाग का जनपद।
  • राज्य-कर्मचारी का वर्तमान सैलरीस्लिप सेवानिवृत कर्मचारी का अंतिम सैलरीस्लिप
  • सेवानिवृत कर्मचारी का बैंक अकाउंट नंबर एवं आईएफएससी कोड
  • राज्य-कर्मचारी और उनके परिवार के सदस्यों का आधार कार्ड,आधार लिंक्ड मोबाइल नंबर
  • राज्य-कर्मचारी और उनके परिवार के सदस्यों की फोटो।
  • राज्य-कर्मचारी के परिवार में किसी सदस्य के विकलांग होने पर विकलांगता प्रमाणपत्र।

वीडियो में खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

Click Here & Download Now The Lucknow Meat Wala