अधिकतर गांवों में नहीं है जल निकासी के लिए नालियों का प्रबंध

खड़ंजा पड़ते ही लगा उखड़ने,सफाई कर्मी का न आना भी खल रहा ग्रामीणों को

रिपोर्ट @ अनुराग दीक्षित 

हरदोई,पचदेवरा। विकास खंड भरखनी की ग्राम पंचायत अनंगपुर यूं तो आसपास की ग्राम पंचायतों से सर्वाधिक संतृप्त है। लेकिन गांव में जल निकासी का प्रबंध अभी तक नहीं हो सका है। नाले नालियां भी कहीं कहीं हैं।गांव के मुख्य नाले की ब्यबस्था न होने के कारण खड़ंजा भी उखड़ना शुरू हो गया है।गंदगी से बजबजाती नालियां साफ न होने से घरों से निकलने बाला व वर्षा का पानी गलियों में भर जाता है।जलभराव से खड़ंजा भी छतिग्रस्त होने लगा है।तथा गंदगी के कारण मच्छर भी पनपने लगे हैं।

सड़क पर पानी भरने से मार्ग बदहाल है व लोगों के घरों में पानी भर जाता है

गुरुवार को हमारे सवांददाता ने ग्राम पंचायत अनंगपुर का रुख किया तो हाल ही में बना नाला टूटा पड़ा था जिसमें ग्रामीणों ने कूड़ा डालकर मुख्य नाले को पूरी तरह से बंद कर दिया था। सड़क पर पानी भरने से मार्ग बदहाल था लोगों के घरों में पानी भर गया था। लाखों की लागत से बने नाले ब मार्ग में जलभराव से दुर्दशा सिर्फ जलभराव होने से थी।
सफाई कर्मी का न आना भी यँहा की मुख्य समस्या है। वैसे करीब 3000 हजार मतदाता वाले इस गांव की आबादी करीब 7000 हजार है। यँहा कोई भी सरकारी शौचालय नहीं बना है। कुछ परिवारों के निजी शौचालय जरूर बने हैं।बाकी आवादी अभी भी शौच के लिए खेतों में जाती हैं। कई हैंडपंप खराब पड़े हैं। कई रिबोर भी होने हैं। रिबोर के लिए कई बार कहा गया लेकिन किसी ने इसका संज्ञान नही लिया।

स्कूल जाने से कतराते हैं बच्चे

गांव में विद्यालय तो है लेकिन रास्ता कीचड़ युक्त और जलभराव वाला होने से बच्चे गिरकर चुटहिल होते रहते हैं। अधिकांश अभिभावक जब-तक जलभराव की स्थित रहती है बच्चों को स्कूल नही भेजते हैं। ग्रामीण प्रीतेश दीक्षित ने कहा कि सफाई कर्मी के न आने और किसी अधिकारी के संज्ञान न लेने की स्थित में घरों में पानी घुस रहा है बाढ़ जैसे हालात बन रहे हैं कोई भी सुनने बाला नहीं है।

सर्वेश सिंह ने कहा कि बर्षों से पानी की समस्या है लेकिन नल को ठीक कराने के भी इंतजाम नही किये जा रहे।
गौरव दीक्षित का कहना है कि बच्चों को स्कूल भेजने में डर लगा रहता है। अक्सर जब वे स्कूल जाते हैं फिसलकर कर गिरने से ड्रेस खराब कर वापस घर लौट आते हैं।

इस सम्बंध में वीडियो भरखनी विद्याशंकर कटियार ने कहा कि गांव का निरीक्षण करेंगे। जिन लोगों ने मुख्य नाले को घूरा डालकर बन्द किया है उनपर प्रशाशनिक कार्यवाही की जाएगी। जो भी दोषी पाया जाएगा कार्यवाही होगी।