राष्ट्र वन्दन उत्सव का हुआ शुभारम्भ,देशभक्ति गीत गाकर महापुरुषों को दी श्रद्धांजलि

समाज मे अंतिम व्यक्ति तक की प्रतिभी को मंच मिले व उनकी कलाएँ समाज मे प्रचलित हो इसी उद्देश्य के साथ यह कार्यक्रम प्रति वर्ष होता है

गोरखपुर । राष्ट्र वंदन समिति के तत्वावधान मे हर वर्ष होने वाले साप्ताहिक कार्यक्रम राष्ट्र वंदन उत्सव का भव्य शुभारंभ हुआ जिसके अन्तर्गत आज एकल व समूह गायन की प्रस्तुति विन्ध्यवासिनी पार्क के योगा हाल मे हुई जहां पर महानगर के विभिन्न स्कूलों के छात्र छात्राओं ने प्रतिभाग किया व राष्ट्र भक्ति आधारित लोक गीत, शास्त्रीय गीत, परम्पराओं पर आधारित गीत गाकर एक देशभक्तिमय माहौल बना कर के राष्ट्र के महापुरुषों को अपनी श्रद्धांजलि दी ।

कार्यक्रम का शुभारंभ सरस्वती वंदना व मुख्य अतिथि श्री पुष्प दंत जैन, मनोज मिश्रा मिहिर, अतुल सर्राफ,डा रूप कुमार बनर्जी,राम नगीना त्रिपाठी,विजय खेमका द्वारा भारत माता के चित्र पर पुष्पार्चन व दीप प्रज्ज्वलित कर हुआ।

कार्यक्रम से पूर्व कार्यक्रम की प्रस्तावना रखते हुए समिति के महामंत्री दुर्गेश त्रिपाठी ने समिति के कार्यो का वर्णन करते हुए कहा कि समाज मे अंतिम व्यक्ति तक की प्रतिभी को मंच मिले व उनकी कलाएँ समाज मे प्रचलित हो इसी उद्देश्य के साथ यह कार्यक्रम प्रति वर्ष होता है
व्यापारी कल्याण बोर्ड के पुष्पदंत जैन जी ने कहा आने वाले दिनो मे गोरखपुर के प्रतिभाओं को मंच देने के लिए गोरखपुर मे एक विशेष एकेडमी खोलने की बात चल रही है और जल्द ही हम इसके अंतिम निर्णय पर पहुंचेंगे।

प्रतिभायें निखर के आये व गोरखपुर का नाम रोशन करे इससे बढ कर हमारे लिए कोई लक्ष्य नही और गोरखपुर की प्रतिभाओ के लिए हम सदैव अग्रणी भूमिका मे रहेंगे
कार्यक्रम के उद्घाटन मे मशहूर गायक व फिल्म अभिनेता मनोज मिश्रा मिहिर ने देश भक्ति गीत गाकर पूरे माहौल को देश भक्ति के रंग मे रग दिया व अपने उद्बोधन मे इस कार्यक्रम की भूरि भूरि प्रशंसा करते हुए कहा कि मंच कोई भी हो प्रतियोगिता स्वयं से करना होता है, हम खुद को निरिक्षण करें तो हम सदैव बेहतर करते जायेंगे और यही प्रतिभा जो मेरे सामने है आगे भारत की शान बनेंगे
वही डा रूप कुमार बनर्जी जी ने कहा ऐसे आयोजनों से बच्चों मे निखार आता है और समाज का ज्ञान होता है।

सामाजिक व सांस्कृतिक सम्बन्ध एक दूसरे के बिना कुछ भी नही है ये भाव इन कार्यक्रमों के माध्यम से बच्चों तक जाता है और यही बच्चे भारत के भविष्य है इनको राष्ट्र के महापुरुषों के बारे मे कला के माध्यम से सटीक व सही जानकारी देना इस कार्यक्रम का उद्देश्य है ऐसे कार्यक्रम होते ही रहने चाहिए।

वही प्रसिद्ध व्यवसायी अतुल सर्राफ ने इस कार्यक्रम मे कहा कि हम यहाँ इस कार्यक्रम मे आकर अपने आप को सौभाग्यशाली मानते है जो कि इन बच्चों के बीच राष्ट्र भक्ति प्रेम आधारित प्रतियोगिता मे हम शामिल हो रहे है, गोरखपुर मे बहुत प्रतिभा भरी पड़ी है आज के इस कार्यक्रम मे शामिल सभी छात्र छात्राओं को हमारी शुभकामनाएं संचालन सीता शुक्ला ने किया।

इस दौरान दुर्गेश त्रिपाठी, माया गुप्ती, कंचनलता खेमका, स्वीटी जायसवाल, शशिकांत पारीक, शशिकांत पांडेय,रूप रानी, शिखर त्रिपाठी, धर्मराज राना, शिवम गुप्ता, आदर्श सिंह, अशोक सिंह, वाली गुप्ता, रजनी साहनी, प्रीती भारती समेत तमाम लोग उपस्थित रहे