ईरान की मस्जिद पर लगाया गया लाल रंग का झंडा,अमेरिका के खिलाफ आक्रामक रुख

- in Featured, विदेश
ईरान

ईरान:शिया समुदाय में लाल झंडे का मतलब होता है बदले की कार्रवाई या फिर युद्ध का ऐलान

ईरान ने कुद्स फोर्स के प्रमुख मेजर जनरल कासिम सुलेमानी (General Qasem Soleimani) की मौत के बाद अमेरिका के खिलाफ आक्रामक रुख अपना रखा है। इस बीच ईरान के क़ौम स्थित प्रमुख मस्जिद पर लाल रंग का झंडा (Red Flag) फहराया गया है। ईरान के सरकारी टीवी चैनल ने दिखाया कि पवित्र शहर क़ौम में जमकारन मस्जिद (Jamkaran Mosque) के गुंबद पर लाल झंडा लगाया गया। शिया समुदाय में लाल झंडे का मतलब होता है बदले की कार्रवाई या फिर युद्ध का ऐलान।

ये भी पढ़े:दिल्ली:जुमे की नमाज के बाद भड़के दंगे में SIT का बड़ा खुलासा,PFI के 15 कार्यकताओं के नाम

यहां कौम में मस्जिद पर लाल झंडा फहराने के साथ लाउडस्पीकर पर दुआ मांगते सुना गया, ‘या अल्लाह, अपने रखवाले को फिर से दुनिया पर भेजो.’ इसे पैगंबर मेहदी के दोबारा प्रकट होने की दुआ के रूप से देखा जा रहा है, जिनके बारे में इस्लामी मान्यता है कि आखिरी समय में (कयामत से पहले) वह धरती से बुराई के अंत के लिए दोबारा प्रकट होंगे।

स्थानीय लोगों के मुताबिक पवित्र शहर क़ौम के इतिहास में ये पहला मौका है जब मस्जिद के ऊपर लाल झंडे लगाया गया है। बता दें शनिवार को ईरान के सुप्रीम लीडर अयातुल्ला अली खामेनेई ने सुलेमानी के परिवारवालों से मुलाकात की थी। इसी दौरान उन्होंने उनके परिवार को भरोसा दिलाया कि जल्द ही सुलेमानी की मौत का बदला लिया।

बता दें कि शनिवार रात बगदाद में अमेरिकी दूतावास के बाहर रॉकेट से हमला किया गया। माना जा रहा है कि ये हमला ईरान की ओर से किया गया। ये हमला अमेरिकी दूतावास के नजदीक और अमेरिकी एयरबेस पर पर हुआ। दो रॉकेट दूतावास के नजदीक गिरे।