सम्पूर्ण उत्तर प्रदेश मे SC/st के विरोध,भारत बंद,मोदी, भाजपा का भीषण विरोध पर विशेष प्रस्तुति

लखनऊ प्रतापगढ़ , सुल्तानपुर सहित लगभग सभी जनपद मे SC/st के विरोध भारत बंद को लेकर प्रस्तुत है संस्कार न्यूज की विशेष रिपोर्ट:-

रिपोर्ट:-भानू मिश्रा

प्रतापगढ़। एस सी एसटी एक्ट के विरोध में पट्टी तहसील के अधिवक्ताओं ने तहसील का गेट बंद करके विरोध जताया की नारेबाजी पट्टी बारअध्यक्ष ओमप्रकाश सिंह महामंत्री शैलेंद्र तिवारी राधा रमण मिश्र चंदन सिंह दिनेश सिंह अशोक कुमार सिंह सहित तमाम अधिवक्ताओं ने एससी एसटी एक्ट का विरोध करके तहसील में न्यायिक कार्य से विरत रहे वरिष्ठ अधिवक्ता वंश बहादुर सिंह एडवोकेट ने कहा भाजपा का पतन का कारण एस सी एसटी एक्ट होगा भाजपा सरकार सवर्णों के साथ जो यह खिलवाड़ किया है 2019 में भाजपा को भुगतना पड़ेगा पट्टी के अधिवक्ताओं ने तहसील गेट पर नारेबाजी करते हुए विरोध जताया रहे कार्य से विरत।

15 अगस्त पर फहराएं गए कई तिरंगे, लेकिन इस तिरंगे की वीडियो सोशल मीडिया पर हो रही तेजी से वायरल

वही दूसरी तरफ सुलतानपुर के तिकोनिया पार्क मे SC/st के खिलाफ चल रहा है आन्दोलन कई दिनो से अनवरत।

सुलतानपुर लम्भुआ,जैसिहपुर ,कादीपुर,दोस्तपुर, बलदीराय लम्भुआ आदि जगहो पर लगभग सभी ब्यापारिक प्रतिस्ठान रहे बंद

लोगो ने जुलूस निकाल कर मोदी , भाजपा मुर्दाबाद के नारे लगाए। विरोध प्रदर्शन करते सवर्ण संगठनों के लोग , सड़क पर लगा जाम

भारत बंद के दौरान सड़क जाम

घण्टो रही अफरा तफरी

अम्बेडकरनगर। सवर्ण संगठनों ने केंद्र सरकार द्वारा लागू किये गए एससी/एसटी एक्ट व आरक्षण की नई व्यवस्था लागू किये जाने के विरोध में भारत बंद के आह्वान का जिले में जबरदस्त असर देखा गया। कुछ क्षेत्रों को छोड़कर लगभग पूरे जिले में बंद का असर देखा गया। ब्राह्मण महासभा, ब्राह्मण एकता मंच के क्षत्रिय संगठनों ने भी बंद का समर्थन किया। जिला मुख्यालय पर भारत बंद के दौरान पुराने तहसील तिराहे पर जबरदस्त जाम रहा। सवर्णों ने तहसील तिराहे पर जाम लगाकर विरोध प्रदर्शन किया व केंद्र सरकार तथा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विरुद्ध जमकर नारेबाजी की।मजे की बात यह रही कि इस विरोध प्रदर्शन में कई भाजपा कार्यकर्ता भी शामिल रहे। इस विरोध प्रदर्शन में महिलाओ व लड़कियों ने भी बढ़ चढ़कर भाग लिया। लगभग एक घण्टे तक चले जाम के बाद सभी लोग कलेक्ट्रेट की तरफ कूचकर गए। यंहा जिलाधिकारी के माध्यम से प्रधानमंत्री को ज्ञापन भेजकर इस एक्ट को सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुरूप ही लागू करने की मांग की गई।

छोड़ना चाहते हैं NON-VEG तो अपनाए ये तरीका, नहीं करेगा खाने का मन

गौरतलब है कि सवर्ण संगठनों ने छह सितम्बर को भारत बंद का एलान कर रखा था। इसी परिप्रेक्ष्य में ब्राह्मण महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिनेश पांडेय, जिलाध्यक्ष हरिओम तिवारी उर्फ गुड्डू के अलावा कुछ अन्य संगठनों ने भी भारत बंद का समर्थन करते हुए गुरुवार को जोरदार प्रदर्शन किया। गायत्री मन्दिर परिसर के पास से शुरू हुए विरोध प्रदर्शन के दौरान बड़ी संख्या में महिलाएं भी मौजूद रहीं। केंद्र सरकार व मोदी के विरुद्ध जोरदार प्रदर्शन करते हुए सैकड़ो लोग पुराने तहसील तिराहा जाम किया।

महराजगंज:फरेंदा में युवाओ ने एससी एसटी एक्ट के विरोध में किया प्रर्दशन, कालेज बंद।

इसके अलावा अमेठी,कुशीनगर, बस्ती ,संतकबीरनगर, एटा इटावा मैनपुरी, कानपुर नगर ,देहात के हमारे ब्यूरो चीफ तथा रिपोर्टरो ने भारी बंद की और मोदी, भाजपा मुर्दाबाद के नारे बाजी के साथ SC/st बिल के विरोध मे भू जमकर की गयी नारे बाजी।

अरे मोदी जी 22के लिए क्यो कर रहे फारवर्ड को नाराज, कैसे खिलेगा कमल? ★ संसोधित SC-ST Act ★

*हरिजन शब्द रहा ब्राह्मण का,

गांधी ने जिसको छीन लिया।

इसी शब्द में फिर दलितों को,

बड़े हर्ष से लीन किया।।

लेकिन अब हरिजन शब्द से भी ,

लगता है उन्हें घिन आता है,

इसीलिए घर-आंगन में बस ,

भीम का चित्र सुहाता है ।।

आज उसी गलती को फिर से,

दामोदर मोदी दोहराएंगे।

फिर तो सम्भव नही,लौटकर,

फिर सत्ता में आएंगे।।

हिन्दू-हिन्दू करते -करते ,

कब तक हिन्दू गाएंगे।

हरिजन-एक्ट गले मे लेकर,

कैसे कमल खिलाएंगे ।।

तुमने कहा-सब्सिडी छोड़ो,

हमने सुविधा त्याग दिया।

लेकिन आरक्षण तजने का,

तुमने न उनको सलाह दिया।।

बड़ी-बड़ी गाड़ियां रखकर,

बड़े बंगलो में रहते है।

फिर भी बड़े प्यार से खुद को,

‘दलित’ रियासी कहते है।।

‘दलित’ देखना अगर तुम्हें हो,

चलकर मैं दिखलाता हूँ।

आज सवर्णो के आंगन में,

सबसे ‘दलित’मैं पाता हूँ।।

भूखा ब्राह्मण पड़ा हुआ है,

पेट-पीठ को एक किये।

‘ठाकुर साहब ‘ भिखमंगे है,

अब कैसे उनके प्राण जियें।।

लेकिन सरकारी ‘सिस्टम के,

ये सवर्ण अपराधी हैं।

घर मे नही है दाना इनके,

खाने को रोटी ‘आधी’ है।।

नही ‘योजना’इनकी खातिर,

नही वजीफा है बच्चों का।

तुम भी तो हो यही सोंचते,

देश तो केवल है ‘चच्चों ‘का।।

 

तुमसे तो अच्छी ‘माया’ थी,

कहे- करे में भेद नही था।

खाया-पिया-निभाया उसकी,

थाली में तो छेद नही था।।

नही सम्भलता देश अगर तो ,

अन्य कार्य मे जुट जाओ।

‘कुर्सी’ है,अर्थी तो नही है,

इस कुर्सी से उठ जाओ

बस 1 क्लिक पर जानें देश-दुनिया की ताजा-तरीन खबरें Download करें संस्कार न्यूज़ चैनल की Application  नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें या फिर play store पे sanskarnews सर्च करें-https://play.google.com/store/apps/details?id=com.sanskarnews.app

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज- https://www.facebook.com/sanskarnewslko/

सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल- https://www.youtube.com/channel/UC5ou7iIY0GHoLmuBzdxpC9g

 

बस 1 क्लिक पर जानें देश-दुनिया की ताजा-तरीन खबरें Download करें संस्कार न्यूज़ चैनल की Application नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें या फिर play store पे sanskarnews सर्च करें- लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज- https://fb.com/sanskarnewslko/
Loading...