गन्ना किसानों के बकाया भुगतान को लेकर सपाईयो ने किया धरना प्रदर्शन, मोदी, योगी को जमकर कोसा

किसानों का भुगतान न करने पर मिल की ईट से ईट बजा देने की धमकी दी

हरदोई, हरियावा। गन्ना किसानों के बकाया भुगतान और किसानों के शोषण के खिलाफ आज समाजवादी पार्टी के नेताओं ने हरियावां चीनी मिल गेट के सामने जोरदार प्रदर्शन किया। तथा एक पखवाड़े में किसानों का भुगतान न करने पर मिल की ईट से ईट बजा देने की धमकी दी। रविवार को किसानों के बकाया भुगतान को लेकर हुए बिशाल धरना प्रदर्शन को सम्बोधित करते हुए कार्यक्रम के मुख्य

प्रधानमंत्री मोदी और योगी पर किसानों के साथ धोखा करने का आरोप लगाया

अतिथि एम एल सी राजपाल कश्यप ने प्रधानमंत्री मोदी और योगी पर किसानों के साथ धोखा करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि इस सरकार में सबसे ज्यादा शोषण अन्न दाता का हो रहा है। किसान अपनी गाढ़ी कमाई के लिए परेशान हैं। लेकिन सरकार को किसानों की कोई परवाह नहीं है। उन्होंने सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव और अखिलेश यादव को किसानों का सच्चा मसीहा बताते हुए कहा कि किसानों के हित में जितना काम सपा ने किया उतना आज तक किसी सरकार ने नहीं किया। उन्होंने कहा कि गन्ना किसानों का 11473 करोड़ रुपया चीनी मिले दबाये बैठी है जिन्हें मौजूदा

पन्द्रह दिनों के भीतर किसानों के पैसे का हिसाब न किया गया तो सपा पूरे प्रदेश में आंदोलन करेगी

भाजपा सरकार का संरक्षण प्राप्त है। उन्होंने चेतावनी दी कि अगर पन्द्रह दिनों के भीतर किसानों के पैसे का हिसाब न किया गया तो सपा पूरे प्रदेश में आंदोलन करेगी। इस अवसर पर कार्यक्रम को पूर्व सांसद ऊषा वर्मा, पूर्व विधायक बीरेंद्र वर्मा, राजेश्वरी देवी, जिलाध्यक्ष शराफत अली, अनिल सिंह बीरु संजय कश्यप मोहसिन जैदी आदि नेताओं ने संबोधित किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता शराफत अली ने की तथा संचालन मुकुल सिंह आशा ने किया। कार्यक्रम के अंत में सपा नेताओं ने मांगो से संबंधित ज्ञापन नायब तहसीलदार विष्णु दत्त मिश्रा को सौपा। चीनी मिल गेट पर सपा के धरना प्रदर्शन को लेकर थाना पुलिस काफी सक्रिय रही। कार्यक्रम में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए थानाध्यक्ष बीरेंद्र कुमार तोमर सहित पूरे थाने की पुलिस मौके पर डटी रही।