मुठभेड़ में दबोचे गए तीन लुटेरे, आठ घटनाओं का हुआ खुलासा

एसएसपी शलभ माथुर ने प्रेस कांफ्रेंस कर पकड़े गए बदमाशों के बारे में जानकारी दी।

गोरखपुर । लूट की वारदातों को अंजाम देने वाले तीन बदमाशों को एसपी साउथ ज्ञान प्रकाश चतुर्वेदी और एसपी क्राइम आलोक शर्मा के संयुक्त देखरेख में गोला थाना पुलिस और स्वॉट टीम ने बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया। तलाशी के दौरान उनके पास से दो तमंचा, कारतूस, लूट के गहने, सात चोरी के बाइक बरामद हुए। पूछताछ में बदमाशों ने आठ घटनाओं में शामिल होना स्वीकार किया है।

एसएसपी शलभ माथुर ने प्रेस कांफ्रेंस कर पकड़े गए बदमाशों के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि बदमाशों के तलाश में पुलिस टीम लगी थी। इसी दौरान मुखबिर से सूचना मिली की कृषि भवन के पास तीन बदमाश लूट की योजना बना रहे हैं। गोला थाने के उपनिरीक्षक चंद्रेश्वर सिंह, बड़हलगंज के उप निरीक्षक मदन मोहन मिश्र, राजेंद्र सिंह, सर्विलांस टीम, स्वॉट प्रभारी सत्यप्रकाश सिंह ने घेराबंदी की।पुलिस को देखते ही बदमाशों ने फायरिंग कर दी।

खुद को बचाने हुए टीम ने तीनों बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गए बदमाशों की पहचान गोला के बिजुलियाडाड़ गांव निवासी आदित्य उर्फ निक्की, तीरागांव निवासी अरविंद साहनी, घनघटना के मड़पतना निवासी सूरज चतुर्वेदी के रूप में हुई है। इसमें से दो बदमाशों पर दस दस हजार रुपये का इनाम था। पूछताछ में गोला कस्बे में तीन हजार रुपये की लूट, सर्राफ से लूट, सिकरीगंज में बाइक चोरी, कैंट इलाके में बैंक के पास 49 हजार रुपये की लूट, कैंट में बाइक चोरी, कुशीनगर में सर्राफ से लूट, संतकबीनगर में बुलेट लूट की घटना स्वीकार की है।

अंतर जनपदीय गिरोह में कराएंगे शामिल

एसएसपी ने कहा कि इस गिरोह के लोग पहली बार पकड़े गए है। शातिर बदमाश पालन राय के गिरोह के इन सदस्यों पर गैंगेस्टर के साथ ही अंतर जनपदीय गिरोह की सूची में भी शामिल किया जाएगा। यह सभी देवरिया में एक गैस एजेंसी लूट की योजना बनाए थे। रेकी भी हो चुकी थी लेकिन इसके पहले ही पुलिस ने इन्हें दबोच लिया।