भैंस बेच बनबाया “इज्जत घर” पेश की मिशाल

शौचालय बनवाने के लिए लगाए सरकारी दफ्तरों के चक्कर, सुनवाई न होने पर भैंस बेंच करा रहे शौचालय का निर्माण।

हरदोई, पचदेवरा । ऐसे ही लोग स्वच्छ भारत मिशन के असली सारथी है। एक ओर जहां सरकार लोगों को खुले में शौच से छुटकारा दिलाने के लिए हर घर में शौचालय बनवा रही है। वहीं कुछ लोग ऐसे भी है, जो शौचालय का निर्माण कराने के लिए कुछ भी करने को तैयार है। ऐेसे ही एक ग्रामीण ने अपनी भैंस बेंचकर घर में शौचालय का निर्माण शुरू करा दिया है।
हम बात कर रहे विकास खंड भरखनी के गांव अनंगपुर निवासी अवनीश पाठक की जो मेहनत मजदूरी कर गुजर बसर करते हैं । घर में छोटे-छोटे बच्चे जो दूध के सिवा कुछ नहीं खा पी पाते हैं। लेकिन उनका कोई ख्याल न करते हुए जब घर की महिलाये खेत पर शौच जाने लगीं और इज्जत पर बात आई तो उन्होंने अपने छोटे-छोटे बच्चों की परवाह किये बिना 28000 हजार रुपये में भैंस बेंच कर प्रधानमंत्री की स्वच्छ भारत मिशन की स्कीम से प्रेरित हो शौचालय का निर्माण करा रहे है।लेकिन घर में शौचालय न होने के कारण उनके घर की बहू बेटियों को खुले में शौच के लिए मजबूरन जाना पड़ता था।वहू की जिद पर अवनीश ने घर में ही शौचालय बनवाने का निर्णय लिया। इसके लिए अवनीश पाठक ने कई बार स्वच्छ भारत मिशन के तहत शौचालय बनवाने के लिए  सरकारी दफ्तरों के चक्कर लगाए, ग्राम प्रधान से लेकर अधिकारियों तक से गुहार लगाई मगर किसी ने उनकी बात पर अमल नहीं किया। लाख कोशिशों के बाद भी शौचालय नहीं बन सका।
इसी दौरान एक दिन शौच के लिए घूघट ओढ़ कर गयी उनकी बहू ठोकर लगने से रास्ते में ही गिर गईं। उनको ज्यादा चोट तो नहीं आई, मगर बहु की तकलीफ को देखते हुए अवनीश ने निर्णय किया कि वह शौचालय बनवाकर रहेंगे। कोई रास्ता न देख उन्होंने अपनी भैंस सस्ते में बेच डाली। 28 हजार रुपए की भैंस बेचकर अब अवनीश ने शौचालय का निर्माण शुरू करा दिया है। उनका एक छह महीने का छोटा पोता है जो कि दूध ही पी पाता था उसका भी कोई ख्याल न करते हुए बहू के सपनों को सकार करने के लिए शौचालय बनवा रहे हैं। अवनीश पाठक का कहना है कि देश हमारा है और उसे स्वच्छ बनाने की जिम्मेदारी भी हमारी है। सभी लोगों को आगे आकर इसके लिए पहल करनी चाहिए।
बीडियो विद्याशंकर कटियार ने बताया की अवनीश पाठक जैसे लोगों से समाज के अन्य लोगों को प्रेरणा लेनी चाहिए। अवनीश की पहल सराहनीय है इसके लिए उन्हें शौचालय की प्रोत्साहन राशि भी दी जाएगी।